Hindi News »Self-Help »Career Tips» RRB Exam, रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड परीक्षा, रेलवे में नौकरी, RRB का पेपर कैसे पास करें, Jobs In Railway, Benefits Of Studying Past Railway Exam Papers

RRB 2018 Exam: पिछले सालों के पेपर्स की जरूर करें स्टडी, होंगे ये 5 फायदे

ऑनलाइन मॉक टेस्ट से काफी मदद मिल सकती है, साथ ही पिछले सालों के पेपर्स भी सॉल्व कर लें तो यह भी काफी फायदेमंद होता है।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Apr 23, 2018, 06:32 PM IST

RRB 2018 Exam: पिछले सालों के पेपर्स की जरूर करें स्टडी, होंगे ये 5 फायदे

RRB 2018 Exam : रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड यानी RRB के द्वारा रेलवे में Group C और Group D के करीब 90 हजार पदों पर भर्ती की जाएगी। इतने बड़े लेवल पर रेलवे की इस तरह की कोई एग्जाम काफी अरसे बाद हो रही है। ऐसे में किसी को भी इस एग्जाम को क्रैक करने का कोई मौका नहीं खोना चाहिए। एग्जाम को क्रैक करने में ऑनलाइन मॉक टेस्ट से काफी मदद मिल सकती है, तो साथ ही अगर पिछले सालों के पेपर्स भी सॉल्व कर लें तो यह भी काफी फायदेमंद होता है। प्रीवियस ईयर्स के एग्जाम पेपर्स की स्टडी करने से क्या 5 फायदे होंगे, यहां हम बता रहे हैं :


1. पैटर्न को समझने में आसान होगी:

कॉम्पिटिटिव एग्जाम में अगर आपने पैटर्न को समझ लिया तो उसे क्रैक करना आसान हो जाता है। पिछले सालों के पेपर सॉल्व्ड करने से कैंडिडेट को यह पता चल जाता है कि किस तरह के सवाल और किस पैटर्न पर पूछे जाते हैं।

2. स्पीड बढ़ाने पर फोकस कर सकते हैं :

अगर कैंडिडेट प्रीवियस ईयर्स के एग्जाम पेपर्स को उसी तरह सॉल्व करने की कोशिश करें, जैसे कि वह असली एग्जाम में करेगा तो इससे उसे यह समझ में आ जाएगा कि एग्जाम में उसे किस सवाल को हल करने में कितना वक्त लगेगा। आखिर हर कॉम्पिटिटिव एग्जाम में स्पीड मायने रखती है। ऐसे में वह अपने परफॉर्मेंस को बेहतर करने और अपनी स्पीड को बढ़ाने की कोशिश कर सकता है।

3. तैयारी कैसी है, इस बात का पता चल जाता है :
पिछले साल के पेपर्स को हल करने से आपको यह पता चल जाता है कि आप इस समय कहां खड़े हैं। इससे कैंडिडेट्स अपनी एग्जाम की तैयारी की प्रोग्रेस को ट्रैक कर सकते हैं। उन्हें यह पता चल जाता है कि उनकी तैयारियों में कहां कमी है और उसके अनुसार वे उसमें इम्प्रूवमेंट कर सकते हैं।


4. स्ट्रेटजी बनाने में मदद मिलती है :
चूंकि मॉक टेस्ट से आपको पैटर्न का पता चल जाता है और साथ ही इस बात का भी आइडिया लग जाता है कि आपको किन सवालों को सॉल्व करने में कितना वक्त लगेगा, तो इससे आप असली एग्जाम के लिए अभी से बेहतर स्ट्रेटजी बना सकेंगे।

5.प्रैक्टिस अच्छे से हो जाती है :
कॉम्पिटिटिव एग्जाम्स में मैथ्स और रिजनिंग के काफी सवाल आते हैं। रेलवे की इस एग्जाम में भी आएंगे। इसके लिए प्रैक्टिस जरूरी है। ऐसे में पिछले सालों के पेपर्स प्रैक्टिस के भी काम आते हैं। इनसे प्रैक्टिस सटीक ढंग से हो जाती है।

रेलवे एग्जाम का ऑनलाइन मॉक टेस्ट : रजिस्ट्रेशन करने के लिए यहां क्लिक करें -

India Result 2018: Check BSEB 10th Result, BSEB 12th Result, RBSE 10th Result, RBSE 12th Result, UK Board 10th Result, UK Board 12th Result, JAC 10th Result, JAC 12th Result, CBSE 10th Result, CBSE 12th Result, Maharashtra Board SSC Result and Maharashtra Board HSC Result Online
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: RRB 2018 Exam: pichhle saalon ke pepars ki jrur karen stdi, hongae ye 5 faayde
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
Reader comments

More From Career Tips

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×