--Advertisement--

सोते समय ध्यान ना रखी जाए ये एक बात तो हो सकता है बहुत नुकसान

अगर सोते समय हमारी पोजिशन ठीक ना हो तो भी इसका बहुत बुरा असर हमारी हेल्थ और फाइनेंशियल कंडीशन पर पड़ती है।

Danik Bhaskar | Apr 24, 2018, 04:44 PM IST

रिलिजन डेस्क. अगर सोते समय हमारी पोजिशन ठीक ना हो तो भी इसका बहुत बुरा असर हमारी हेल्थ और फाइनेंशियल कंडीशन पर पड़ती है। अक्सर लोग सोते समय ये बात ध्यान नहीं रखते हैं कि उनका सिर और पैर किस दिशा की और जा रहे हैं। वास्तु और धर्मग्रंथों ने इस बात को स्पष्ट किया है कि सोते समय दक्षिण में पैर नहीं होना चाहिए, क्योंकि गरुड़ पुराण के अनुसार मृत्यु के बाद शव के पैर दक्षिण दिशा की ओर रखे जाते हैं क्योंकि ये यम की दिशा मानी गई है। वैसे ही सोते समय आपके पैर घर के मुख्य दरवाजे की ओर नहीं होना चाहिए। ये भी गलत माना जाता है। इससे हेल्थ और फाइनेंस दोनों मामलों में हानि उठानी पड़ सकती है।

संत स्वामी माधवाचार्य जी के अनुसार दरवाजे की ओर पैर करके सोना मृत्यु का सूचक माना जाता है। किसी व्यक्ति की मृत्यु के बाद उसके मृत शरीर को इसी अवस्था में रखा जाता है। अत: इस प्रकार जीवित व्यक्ति नहीं सोना चाहिए। दरवाजे की ओर पैर रखकर केवल मृत शरीर को रखा जाता है। जीवित के लिए यह स्थिति अत्यधिक हानिकारक है। इसलिए इस पोजिशन में न सोएं।

ऐसे सोने पर घर के वातावरण में नकारात्मक शक्तियों का प्रभाव बढऩे लगता है। जिससे परिवार के सदस्यों को मानसिक तनाव का सामना करना पड़ता है। आर्थिक कार्यों में भी नुकसान की संभावनाएं निर्मित होती हैं।गलत दिशा में सोना कई प्रकार से अशुभ है। एक परंपरा ये भी है कि हमें दक्षिण या पूर्व दिशा की ओर सिर रखकर सोना चाहिए। इस संबंध में धार्मिक, वैज्ञानिक प्रभाव भी बताए गए हैं। इसके साथ ही एक बात और ध्यान रखना चाहिए कि सोते समय हमारे पैर दरवाजे के सामने न हो। ऐसे सोना शास्त्रों के अनुसार अच्छा नहीं माना जाता है।