Hindi News »Business» Black Money: SIT Suggest Increase Case Holding Limit 1 Crore

एक करोड़ से ज्यादा की काली कमाई कैश में जब्त हो तो वह सरकारी खजाने में जाए: एसआईटी की सिफारिश

कैश रखने की मौजूदा लिमिट 20 लाख रुपए है

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jul 19, 2018, 09:39 PM IST

एक करोड़ से ज्यादा की काली कमाई कैश में जब्त हो तो वह सरकारी खजाने में जाए: एसआईटी की सिफारिश

- कालेधन पर फिलहाल 40% टैक्स और पेनल्टी देकर बाकी रकम रखने का प्रावधान
- 16 जुलाई को तमिलनाडु में एक कंपनी पर छापे में 160 करोड़ रुपए कैश मिला

अहमदाबाद. काले धन पर बनी स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) ने नकदी रखने की सीमा 20 लाख से बढ़ाकर 1 करोड़ रुपए करने की सिफारिश की है। साथ ही सुझाव दिया है कि जब्ती के दौरान तय सीमा से ऊपर जो भी कालाधन मिले वो सरकारी खजाने में जमा हो। एसआईटी के प्रमुख जस्टिस (रिटायर्ड) एमबी शाह ने ये जानकारी दी।

शाह ने कहा कि 160 करोड़ और 177 करोड़ जितनी बड़ी रकम जब्त की जा रही है। ऐसे में 20 लाख की लिमिट काफी कम है। एसआईटी ने नई सिफारिश हाल के बड़े छापों को देखते हुए दी है। आयकर विभाग ने 16 जुलाई को तमिलनाडु की एक कंपनी पर छापा मारकर 160 करोड़ रुपए नकद और 100 किलो सोना जब्त किया था।

पहले 20 लाख लिमिट की सिफारिश की थी :मौजूदा नियमों के मुताबिक, छापे में मिलने वाले कालेधन पर 40% टैक्स और पेनल्टी देकर दोषी बाकी रकम अपने पास रख सकता है। एसआईटी ने दूसरी बार कैश होल्डिंग लिमिट बढ़ाने की सिफारिश की है। इससे पहले 15 लाख की लिमिट बढ़ाकर 20 लाख करने की सिफारिश की गई थी। सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर केंद्र सरकार ने 2014 में एसआईटी बनाई थी। ये कमेटी कालेधन पर लगाम लगाने के लिए लगातार अपने सुझाव दे रही है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Business

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×