--Advertisement--

बिजनेस राउंड अप: अमेरिका-चीन के बीच ट्रेड वॉर शुरू होने से दुनिया के बाजारों में निराशा

दोनों देशों ने एक दूसरे पर 2.34 लाख करोड़ रुपए के आयात पर शुल्क लगाया है।

Dainik Bhaskar

Jul 09, 2018, 09:44 AM IST
Business round up US China Trade war impact on global markets

दुनिया की दो बड़ी अर्थव्यवस्था अमेरिका और चीन के बीच शुक्रवार से ट्रेड वार शुरू हो गई। दोनों ने एक दूसरे पर 2.34 लाख करोड़ रुपए के आयात पर शुल्क लगाया है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने धमकी दी है कि चीन ने जवाबी कार्रवाई की तो वे इस देश से होने वाले 34 लाख करोड़ रुपए के पूरे आयात पर शुल्क लगाएंगे। अमेरिका ने भारत, यूरोपियन यूनियन और कनाडा के लिए भी टैरिफ बढ़ाने की चेतावनी दी है। लिहाजा इन देशों ने भी जवाबी शुल्क लगाने की तैयारी कर ली है। चीन ने डब्ल्यूटीओ में शिकायत दर्ज कराई है। दुनिया के बाजार ट्रेड वार से निराश हैं। उन्हें विश्व अर्थव्यवस्था की रफ्तार सुस्त होने का डर सता रहा है।
यूरोप में संयुक्त उद्यम से टाटा स्टील के शेयरधारकों को राहत
टाटा स्टील यूरोप और थाइसेनक्रुप 50:50 हिस्सेदारी वाला संयुक्त उद्यम (जेवी) बनाने पर सहमत हुए हैं। इससे यूरोप में आर्सेलरमित्तल के बाद दूसरी बड़ी स्टील कंपनी अस्तित्व में आएगी। यह सालाना करीब 2.1 करोड़ टन स्टील का उत्पादन करेगी। टाटा स्टील ने अपनी बैंलेंस शीट से टाटा स्टील-यूरोप की एसेट्स हटा दी है। बकाया कर्ज भी संयुक्त उद्यम को ट्रांसफर होगा। टाटा स्टील का यूरोप डिवीजन अच्छे से काम नहीं कर पा रहा था, इसका जेवी में तब्दील होना टाटा स्टील के शेयरधारकों के लिए राहत की बात है।
एमएसपी बढ़ने से देश के ग्रामीण इलाकों में बढ़ेगी खपत
फसलों के दाम गिरने से निराश किसानों को राहत देने के लिए केंद्रीय कैबिनेट ने वर्ष 2018-19 के लिए खरीफ फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) 24% बढ़ाने को मंजूरी दी है। इससे केंद्र पर 35,000 करोड़ रुपए का बोझ बढ़ेगा। मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनाव को देखते हुए एमएसपी बढ़ाने को लोकलुभावन निर्णय माना जा रहा है। एमएसपी बढ़ने से खाने-पीने की चीजों की महंगाई बढ़ने की आशंका है। लेकिन ग्रामीण इलाकों में खपत मांग बढ़ेगी। इससे एफएमसीजी, दोपहिया और ट्रैक्टर निर्माताओं के कारोबार में तेजी देखने को मिल सकती है।
माल्या केस : डीआरटी का फैसला पहली बार ब्रिटिश कोर्ट में बरकरार
ब्रिटेन के एक हाईकोर्ट ने 13 भारतीय बैंकों के कंसोर्टियम को लंदन के पास हर्टफोर्डशायर में माल्या की प्रॉपर्टी में प्रवेश करने और जब्त करने की इजाजत दी है। धोखाधड़ी और मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप में माल्या भारत की ओर से दायर प्रत्यर्पण के मुकदमे का सामना कर रहा है। उस पर बैंकों का 9,000 करोड़ से अधिक बकाया हैं। ऐसा पहली बार है जब डेट रिकवरी ट्रिब्यूनल के फैसले को किसी ब्रिटिश कोर्ट ने बरकरार रखा है। माल्या को प्रत्यर्पण वारंट पर अप्रैल 2017 में गिरफ्तार किया गया था, उसके वह जमानत पर है।
श्रीलंका में चीन के बढ़ते प्रभाव से निपटने की कोशिश
घाटे में चल रहे श्रीलंका के मट्टाला राजपक्षे अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का संचालन भारत करेगा। यह एयरपोर्ट कोलंबो से 241 किमी दूर हंबनटोटा में है। इसका संचालन भारत और श्रीलंका के संयुक्त उद्यम के तहत किया जाएगा। इसमें एयरपोर्ट अथॉरिटी आॅफ इंडिया (एएआई) की 70% हिस्सेदारी रहेगी। करीब 1,772 करोड़ रुपए की लागत से बने इस हवाई अड्डे को दुनिया का सबसे खाली एयरपोर्ट कहा जाता है। श्रीलंका में चीन अपना प्रभाव बढ़ा रहा है। इससे निपटने के लिए भारत वहां निवेश करना चाहता है।

देवांग्शु दत्ता, कंट्रीब्यूटिंग एडिटर, बिजनेस स्टैंडर्ड

X
Business round up US China Trade war impact on global markets
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..