• Hindi News
  • चल पड़ा पतंगबाजी की खींच व ढील का सिलसिला

चल पड़ा पतंगबाजी की खींच व ढील का सिलसिला

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

जयपुर. मकर संक्रांति के पूर्व दिन रविवार को भी अवकाश रहने से सुबह से परकोटे की छतों पर पतंगबाजी का दौर शुरू हो गया। हर ओर युवा पतंगबाजी का आनंद लेते नजर आ रहे हैं।

युवाओं ने अगले दिन के हिसाब से दाव पेंचों का रिहर्सल किया। पतंगबाजी की खींच व ढील का सिलसिला चल पड़ा और शाम होते होते वो काटा वो मारा का शोर अपने चरम पर पहुंच गया।

उधर, बाहरी कॉलोनियों में भी लोगों ने जमकर दाव पेंच लड़ाए। बाजारों में भी देर रात तक खरीदारी होती रही। सुहागिन महिलाएं संक्रांति के पुण्य काल में दान के लिए 14-14 वस्तुएं खरीदने पहुंची, वहीं युवाओं का मन नई पतंगों की खरीद फरोख्त में लगा रहा।