• Hindi News
  • विश्वस्तर पर संगठित होगा वैश्य समाज : अग्रवाल

विश्वस्तर पर संगठित होगा वैश्य समाज : अग्रवाल

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

जयपुर। अंतरराष्ट्रीय वैश्य महासम्मेलन के संस्थापक अध्यक्ष और पूर्व सांसद रामदास अग्रवाल ने कहा है कि विश्व स्तर पर वैश्य समाज संगठित होकर शासक और किंग मेकर की भूमिका निभाने की स्थिति में है। अग्रवाल सोमवार को अमेरिका अटलांटा में आयोजित एनआरआईवीए के ग्लोबल कन्वेंशन-2013 में मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे। कार्यक्रम में अमेरिका और विश्वभर से आए 3000 से अधिक वैश्य समाज के लोगों ने शिरकत की।

अग्रवाल ने कहा कि अब समय आ गया है, जब न सिर्फ भारत में बल्कि विश्व भर में वैश्य समाज के लोगों को अपनी एकजुटता दिखानी है। इससे वैश्य समाज विश्व स्तर पर आर्थिक और राजनीतिक परिदृश्य को बदलने में सक्षम होगा। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि वैश्य समाज के लोग किसी राजनीतिक दल के सिर्फ समर्थक या फंडिंग एजेंसी ही नहीं है, अपितु नेतृत्व करने की क्षमता भी रखते हैं।

यह सभी समाज के सभी देश के लोगों के लिए फायदे का सौदा साबित होगा। अग्रवाल ने कहा कि यह ग्लोबल कन्वेंशन ऐतिहासिक आयोजन साबित होगा और यह समाज को मजबूती देने के रोड मैप तैयार करने में सहायक साबित होगा। समाज की प्रशासनिक और नीति परक मामले में महत्वपूर्ण भूमिका न सिर्फ उत्तर या दक्षिणी भारत में आ रही है, बल्कि विश्व के बड़े देशों में इनका असर सामने आ रहा है।
अंतरराष्ट्रीय वैश्य महासम्मेलन के पूर्व अध्यक्ष और आंध्र प्रदेश के मंत्री टी. जी. वैंकटेश ने भी अग्रवाल के विचारों से सहमति जताई। एनआरआईवीए के चेयरमैन आनंद गार्लापति, अध्यक्ष रमेश कालवाला, समन्वयक हनुमान नंदनपतिम, विजय चव्वा, सन्यासी राव आदि ने अग्रवाल के स्वागत और सम्मान किया। वैश्य महासम्मेलन के प्रतिनिधियों ने भी ग्लोबल कन्वेंशन में शिरकत की।