• Hindi News
  • बीमा कंपनी पर सवा दो लाख रुपए का जुर्माना

बीमा कंपनी पर सवा दो लाख रुपए का जुर्माना

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

उदयपुर. बीमा होने के बावजूद क्रेन का क्लेम अस्वीकार करने पर राजसमंद जिला उपभोक्ता संरक्षण मंच ने उपभोक्ता को राहत देते हुए बीमा कंपनी पर 2 लाख 27 हजार 300 अदा करने का आदेश दिया है। उपभोक्ता को बतौर मानसिक परेशानी और वाद व्यय के रूप में तीन हजार रुपए अलग से देने होंगे। जिला उपभोक्ता सरंक्षण मंच के पीठासीन अधिकारी गौतम प्रकाश शर्मा, सदस्य नरेंद्र सनाढ्य और डॉ. शिप्रा ने यह फैसला सुनाया।

मेसर्स विकास माईजे प्राइवेट लिमिटेड उमठी उमराया केलवा के निदेशक अनिल कोठारी ने यूनाइटेड इंडिया इंश्योरेंस कंपनी कांकरोली के खिलाफ परिवाद दायर किया था। परिवाद में बताया कि उसकी डेटीक क्रेन मशीन 31 मार्च 2011 से यूनाइटेड इंश्योरेंस से बीमा करवाया था। 1 अगस्त 2011 को मशीन का कुर्रा टूटने से क्रेन नीचे गिर गई।

इससे यह क्षतिग्रस्त हो गई। इसे ठीक कराने में प्रार्थी ने 4 लाख 59 हजार 226 रुपए का क्लेम बीमा कंपनी को पेश किया। लेकिन बीमा कंपनी ने क्लेम अस्वीकार कर दिया। परिवाद पर जिला उपभोक्ता संरक्षण मंच ने बीमा कंपनी को प्रार्थी को बतौर क्लेम 2 लाख 27 हजार 300 रुपए देने का आदेश दिया है। यह राशि फर्म को आदेश की तारीख से एक महीने के भीतर अदा करनी होगी।