• Hindi News
  • महिलाओं के हक और अत्याचार के खिलाफ तैयार हुई महिला ब्रिगेड

महिलाओं के हक और अत्याचार के खिलाफ तैयार हुई महिला ब्रिगेड

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

उदयपुर। महिला अत्याचारों के विरोध एवं महिलाओं को जागरूक कर स्वरोजगार से जोडऩे के लिए मधुर छांव संस्था ने यहां के सीसारमा ग्राम पंचायत के कालोरोही गांव में 22 महिलाओं को जोड़कर स्वयं सहायता समूह का गठन किया हैं। समूह में सर्व सम्मति से समूह की ही प्यारी बाई को अध्यक्ष, दुर्गा को सचिव एवं टीना को कोषाध्यक्ष चुना गया।

मधुर छांव संस्था की संस्थापिका दीपमाला गुप्ता ने बताया कि कालारोही गांव की महिलाओं को पिछली बैठक में स्वयं सहायता समूह एवं सरकार द्वारा समूहों को दिये जाने वाले लाभ के बारे में बताया गया था। उसी से प्रेरित होकर 22 महिलाओं ने बुधवार को हुई बैठक में उत्साह दिखाते हुए प्रथम मासिक राशि जमा करवाकर समूह का गठन किया, जिसे रामेश्वर स्वयं सहायता समूह का नाम दिया गया।

इस दौरान दीपमाला गुप्ता ने कहा कि संस्था समय-समय पर गांव में महिलाओं के लिए कार्यक्रम आयोजित कर नियमित रूप से बैठकों का आयोजन करेगी तथा महिलाओं को कौशल विकास से जोडने के भी प्रयास करेगी।

बैठक के दौरान सामाजिक कार्यकर्ता सौरभ गुप्ता ने महिलाओं को महिला कानून एवं अधिकार पर जानकारी देते हुए बताया कि कानूनी जानकारी ना होने के अभाव में महिलाएं कार्यक्षेत्र, घर-परिवार तथा समाज में अत्याचार का शिकार होती हैं लेकिन उन्हें पता नहीं होता की इसके खिलाफ कहां गुहार लगायी जाये।

गुप्ता ने बताया कि महिलाएं अत्याचार, घरेलू हिंसा, यौन उत्पीडऩ के मामलों में पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज कराये अगर पुलिस उन्हें सहयोग ना करे तो उच्चाधिकारियों से सीधे संपर्क करे साथ ही महिलाओं के लिए कार्यरत संस्थाओं से भी संपर्क कर सकती हैं।

Photo : Sayed Habib