• Hindi News
  • शर्मनाक : कलेजे के टुकड़े को एंबुलेंस में छोड़ भाग खड़ी हुई मां

शर्मनाक : कलेजे के टुकड़े को एंबुलेंस में छोड़ भाग खड़ी हुई मां

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

रांची। मां की महानता और ममता पर सदियों से कसीदे गढ़े जाते हैं, लेकिन इस जमाने में मां का विकृत रूप भी देखने को मिलने लगा है। शुक्रवार को एक ऐसी ही ह्रदय विदारक घटना घटी, जिससे समाज के सामने यह सवाल खड़ा हो गया कि यह कैसी ममता है, जिसने जन्म तो दे दिया, लेकिन मरने के लिए भी अपने नवजात को छोड़ दिया।

घटना स्टेशन रोड स्थित गुरुनानक अस्पताल के बाहर घटी। एक मां ने अपने कलेजे के टुकड़े को जन्म देकर एंबुलेंस में छोड़ दिया और भाग खड़ी हुई। फिलहाल नवजात बच्चे का इलाज गुरुनानक अस्पताल में चल रहा है। स्थिति गंभीर होने के कारण उसे एनआईसीयू में भर्ती किया गया है। शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ प्रभात कुमार क देखरेख में नवजात का इलाज चल रहा है। अस्पताल के सचिव गुरुविंदर सिंह सेठी ने बताया कि घटना की लिखित सूचना चुटिया थाने को दे दी गई है।

सफेद वस्त्र में लिपटा था, दूध बोतल भी थी

सचिव सेठी ने बताया कि माताएं भी ऐसे कृत्य करने लगी हैं, विश्वास नहीं होता। नवजात लड़का है। रात करीब सवा आठ बजे एबुलेंस से बच्चे के रोने की आवाज आयी, तो सिक्यूरिटी सुपरवाइजर राजेश कुमार वहां पहुंचे और नवजात को बाहर निकाला। सेठी के अनुसार, बच्चे पर लिपटे सफेद वस्त्र से अंदाजा लगाया जा रहा है कि बच्चे को किसी अस्पताल में जन्म दिया गया और यहां छोड़ दिया गया। दूध भरी बोतल भी मिली है। बच्चे की स्थिति पर लगातार नजर रखी जा रही है।

फोटो कैप्शन - अस्पताल में नवजात को लिये नर्स।

और भी तस्वीरें देखने के लिए आगे की स्लाइड्स पर क्लिक करें।

फोटो - माणिक बोस