• Hindi News
  • ३७ नेताओं का चयन ३७ नेताओं का चयन

३७ नेताओं का चयन ३७ नेताओं का चयन

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पटना. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को बिहार के बांका में चुनावी सभा में कहा कि रैली में उमड़ी भीड़ से पता चलता है कि बिहार में आने वाले दिनों में दो दिवाली मनेगी। मोदी के मुताबिक एक बार जब नतीजे आएंगे और दूसरी बार जब असली दिवाली होगी। चुनाव की तारीखों के एलान के बाद यह मोदी की पहली चुनावी सभा थी।
मोदी की स्पीच के हाईलाइट्स
-चुनाव घोषित होने के बाद यह मेरी पहली जनसभा है। इसे मैं रैली नहीं कह सकता। मुझे रैला ही रैला नजर आ रहा है।
- बिहार के लोगों से कहने आया हूं कि बिहार के आगे बढ़े बिना भारत को आगे बढ़ाना संभव नहीं है। भारत को आगे बढ़ाने के लिए सबसे जरूरी है बिहार को आगे बढ़ाना।
- बिहार के नौजवानों को रोजगार मिले। बिहार की माताओं और बहनों की शक्ति भारत का भाग्य बदल सके। इसके लिए मैं आज बिहार की जनता से कुछ मांगने आया हूं।
- अमेरिका में मुझसे बिहार के लोग मिलने आए। मैं देर रात तक उनकी बातें सुनता रहा। साफ झलक रहा था कि वे चाहते थे कि किसी तरह से बिहार आगे बढ़े। अमेरिका में रह रहे लोग बिहार के विकास के लिए चिंतित हैं।
-जब कोसी में बाढ़ आई तो मैंने गुजरात से पांच करोड़ रुपए का चेक दिया था। ये महाशय (नीतीश) इतने अहंकारी है कि पैसा लौटा दिया। कल ये स्पेशल पैकेज के 1.65 लाख करोड़ रुपए भी लौटा सकते हैं।
-मैं इन लोगों पर भरोसा नहीं कर सकता। (मोदी ने जीतन राम मांझी से पूछा क्या आप इनलोगों पर भरोसा कर सकते हैं क्या? उत्तर देने के लिए मांझी खड़े हो गए और दोनों हाथ हिलाकर कहा नहीं।)
-और कोई सभा होती और दो मिनट के लिए माइक बंद हो जाता तो क्या हालत होती, यह सभी जानते हैं। मैं इस धैर्य के लिए युवाओं को नमन करता हूं।

-बिहार ने अहंकारवाद, सामंतवाद, वंशवाद झेला है। सब कुछ आपने ट्राई कर लिया, एक बार विकासवाद को वोट कीजिए।
-हमारी सारी समस्याओं का समाधान विकास में है। हमारी मुसीबतों से मुक्ति विकास में है।
- विश्व बैंक की रिर्पोट आई है। मैं बिहार की तुलना राजस्थान, गुजरात जैसे राज्यों से नहीं कर रहा हूं। मैं बिहार की तुलना झारखंड से करता हूं। दोनों राज्य 15 साल पहले एक थे। सर्वे में यह बताया गया है कि किस राज्य में उद्योग लगाना आसान है, कानून व्यवस्था कैसी है? पहले सर्वे में झारखंड में 29वें नंबर पर और बिहार 27 वें नंबर पर था। नई रिपोर्ट में झारखंड तीसरे स्थान पर है और बिहार 27वें स्थान पर ही है। झारखंड में बीजेपी की सरकार बनी तो बदलाव हुआ।
- मौका दीजिए। हम बिहार में भी बदलाव लाएंगे। मैं विकास और कानून व्यवस्था के नाम पर वोट मांगने आया हूं। कालाजार जैसी बीमारी जितनी बिहार में है उतनी झारखंड में भी है। बिहार में 300 लोग मरे, जबकि झारखंड में 30 लोग मरे।
- नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमारी सरकार ने गरीबों के लिए मुद्रा योजना की शुरुआत की है। पहले गरीब पैसे के लिए साहूकार के पास जाते थे। उन्हें सूद पर पैसा लेना पड़ता था। बैंक वाले भी पैसा देने से पहले गारंटी की मांग करते थे। हमारी सरकार की इस योजना से गरीब लोग बिना गारंटी के बैंक से 50 हजार रुपए तक का लोग ले सकते हैं। बिहार में 3 लाख लोगों ने इस योजना का फायदा उठाया है।
- बांका नक्सलवाद प्रभावित क्षेत्र है। आज अहिंसा के लिए जीने वाले व्यक्ति महात्मा गांधी का जन्मदिन है। इस अवसर पर मैं माओवाद की ओर जा चुके युवाओं से कहना चाहता हूं कि आप खून बहाकर किसी का भला नहीं कर सकते। जो लोग बुलेट पर भरोसा करते हैं। मैं उनसे कहना चाहता हूं कि बुलेट की कोख से विनाश के सिवा कुछ पैदा नहीं होता। बैलेट के कोख से विकास पैदा होता है। बुलेट ने विनाश दिया है। बैलेट विकास की गारंटी है।
फोटो- शेखर/शशि शंकर
आगे की स्लाइड्स में देखें, संबंधित PHOTOS...