• Hindi News
  • ट्रायल चल रहे थे। ट्रायल चल रहे थे।

ट्रायल चल रहे थे। ट्रायल चल रहे थे।

6 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पटना. हाजीपुर में मंगलवार की देर शाम मंदिर तोड़ने गई पुलिस और पब्लिक के बीच हिंसक झड़प हो गई। अतिक्रमण हटाने के विरोध में दोपहर से सड़क पर जाम लगाकर बैठे लोगों पर पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। इसके बाद भीड़ बेकाबू हो गई और आक्रोशित लोगों ने पुलिस पर पथराव कर दिया। गुस्साए लोगों ने ASP की गाड़ी और एक ट्रैक्टर में आग लगा दी।
मंदिर हटाने गई पुलिस तो एक हो गए दो समुदाय के लोग
- मंदिर हटाने के विरोध में दो समुदाय के लोग एक हो गए हैं। वे एक होकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।
- मंदिर हटाने के विरोध में स्थानीय लोग बुधवार को भी हंगामा कर रहे हैं।
- बगमली इलाके के सड़क को जाम किया गया है। मंदिर के पास बड़ी संख्या में लोग जुटे हैं।
- मौके पर कमिश्नर अतुल प्रसाद, डीआईजी प्रदीप कुमार और आईजी प्रकाश नाथ पहुंच गए हैं।
10 पुलिसकर्मी हुए घायल
- मंगलवार को लोगों के आक्रोश को देखते हुए पुलिस को मौके से भागना पड़ा।
- आक्रोशित लोगों के पथराव में 10 पुलिसकर्मी घायल हो गए। कुछ पुलिसकर्मी ने घर में छुपकर जान बचाई थी।
- इस मामले में पुलिस ने नगर परिषद के वार्ड पार्षद सुभाष निराला समेत दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।
- वैशाली एसपी राकेश कुमार ने बताया की उपद्रवी तत्वों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
- इस मामले में 10 नामजद और 5000 अज्ञात लोगों पर केस दर्ज किया गया है।
तेजस्वी ने कहा- कानून हाथ में न लें लोग
- इस मामले पर डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने कहा कि लोग कानून को अपने हाथ में न लें।
- कोर्ट के आदेश के बाद पुलिस अतिक्रमण हटाने गई थी।
- कोर्ट के निर्णय का पालन करना ही होगा। लोगों को यह समझना चाहिए।
हाईकोर्ट ने कहा सख्ती से निपटे सरकार
- 20 जनवरी को भी पुलिस बल अतिक्रमण हटाने गई थी, लेकिन विरोध के कारण प्रशासन को लौटना पड़ा था।
- इस मामले में पटना हाईकोर्ट ने मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह और गृह सचिव आमिर सुब्हानी को अदालत में 27 जनवरी को हाजिर होने को कहा था।
- 27 जनवरी को हुई सुनवाई में हाईकोर्ट ने कहा कि सरकार अतिक्रमण हटाने का विरोध कर रहे लोगों से सख्ती से निपटे।
- गृह सचिव ने इस मामले के शांतिपूर्ण समाधान के लिए कोर्ट से और अधिक समय मांगा है।
- इस मामले पर फिर 29 फरवरी को सुनवाई होगी।