प्रताप रुडी प्रताप रुडी / प्रताप रुडी प्रताप रुडी

प्रताप रुडी प्रताप रुडी

Vivek Kumar

Aug 21, 2016, 02:30 PM IST
स्कूल जाने के लिए नाव का सहारा स्कूल जाने के लिए नाव का सहारा
पटना. बिहार के सारण जिले में पढ़ने के लिए छात्राएं जान की बाजी लगा रही हैं। यह छात्राएं दिघवारा के गोगल सिंह इंटर स्तरीय स्कूल की हैं। स्कूल आने के लिए इन छात्राओं को हर दिन उफनती नदी को पार करके आना होता है। सभी छात्राओं के घर दरियापुर के मठ चिलवे गांव में हैं। खास बात यह है कि जिस नाव पर ये पढ़ने आती हैं वह नाव प्राइवेट है और इस पर ओवरलोडिंग की जाती है। रोक के बाद भी ओवरलोडिंग नावों का परिचालन जारी...
बिहार में ओवरलोडिंग नावों के चलाने पर रोक लगा दी है। इसके साथ ही आपदा प्रबंधन विभाग ने शाम पांच बजे के बाद नावों के चलाने पर रोक लगा दिया है, लेकिन रोक के बाद भी नावों का परिचालन जारी है। शनिवार की रात आरा के बबुरा में नाव पलटने से पांच लोगों की मौत हो गई। रात में नाव चलाया जा रहा था। जिससे हादसा हो गया।
ट्रेनों का परिचालन भी बाधित
बाढ़ के कारण छपरा-बलिया रेलखंड का परिचालन बाधित हो गया है। जिससे रेल यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। छपरा-सीवान एनएच-85 पर भी बाढ़ का पानी चढ़ गया है। जिससे यातायात बाधित हो गया है।
आगे की स्लाइड्स में देखें वीडियो...
X
स्कूल जाने के लिए नाव का सहारा स्कूल जाने के लिए नाव का सहारा
COMMENT