• Hindi News
  • क्राइसिस से लडऩे का हौसला देती हैं स्वामी विवेकानंद की शिक्षाएं

क्राइसिस से लडऩे का हौसला देती हैं स्वामी विवेकानंद की शिक्षाएं

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

चंडीगढ़। मानवता इस समय क्राइसिस से निकल रही है। विज्ञान एवं तकनीकी के कारण मानव भी मशीन बनता जा रहा है। ऐसे में धर्म पीछे छूट रहा है। यह कहना रहा स्वामी अनुपमा नंद का। राम कृष्ण मिशन के सचिव अनुपमा नंद शिक्षा एवं मानव संस्कार विषय पर गवर्नमेंट कॉलेज आफ एजुकेशन सेक्टर 20 में अपने विचार रख रहे थे। उन्होंने कहा कि धर्म पीछे छूटने से मानवता एवं संस्कार भी पिछड़ रहे हैं। ऐसे दौर में खुद को इंसानियत से जोड़े रखने के लिए स्वामी विवेकानंद की शिक्षाएं बहुत महत्वपूर्ण हैं। उन्होंने कहा कि शिक्षा का अर्थ का इंसान को इंसानियत सिखाना। इस समय पैदा हो रही सभी सामाजिक समस्याओं का हल स्वामी विवेकानंद की शिक्षाएं हैं। उन्होंने वेदों में समाए ज्ञान को आसान भाषा में स्टूडेंट्स को समझाया। परफेक्शन हमारे भीतर पहले से है, केवल इसे पहचानने की आवश्यकता है। प्रिंसिपल डॉ हर्ष बत्रा भी इस मौके पर मौजूद थे।