पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • इस कुएं से निकाली थी शहीदों की 120 लाशें

इस कुएं से निकाली थी शहीदों की 120 लाशें

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

चंडीगढ़। जलियां वाला बाग हत्याकांड का आज भी जब जिक्र होता है तो दिल दहल उठता है। निहत्थे किसानों को किस तरह से ब्रिटिश हुकूमत का निवाला बनना पड़ा यह एक अनूठी दास्तान है जो आज भी हमारे रोंगटे खड़ी कर देती है। जलियां वाला बाग में में शहीदी कुएं से 120 शहीदों की लाशें निकाली गई थी। भारत के दौरे पर पहुंचे ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन भले ही आज जलियांवाला बाग को ब्रिटिस इतिहास की शर्मनाक घटना करार दे रहे हों, लेकिन भारतीय इतिहास की यह एक ऐसी घटना है जिसे आने वाली पीड़ियां कभी नहीं भूला पाएंगी। बैसाखी के पावन अवसर पर कैसे निहत्थे किसानों को जनरल डायर ने ने गोलियों से उड़ा दिया था ?


यह जानने के लिए ऊपर स्लाइड्स पर क्लिक करें और जाने विस्तार से