पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • जज नोट कांड: सह आरोपी बंसल ने दायर की केस से डिस्चार्ज करने की अर्जी

जज नोट कांड: सह आरोपी बंसल ने दायर की केस से डिस्चार्ज करने की अर्जी

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

चंडीगढ़। पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट की महिला जज के घर पैसे पहुंचाने के पांच वर्ष पुराने चर्चित नोट कांड मामले में शुक्रवार को सीबीआई की विशेष अदालत में आरोप तय कि ए जाने पर बहस नहीं हो सकी। मामले में बहस के लिए सीबीआई ने अदालत के समक्ष छूट मांग ली। सीबीआई ने अदालत को सूचित किया मामले में सह आरोपी संजीव बंसल के घटना वाले दिन 13 अगस्त वर्ष 2008 को थाना सेक्टर 11 में दर्ज कराए गए बयान को अपने चालान के साथ रिकार्ड में नहीं सके, जबकि चालान में दिए गए बयान का जिक्र है।


वह बयान के वास्तविक दस्तावेज को अपने रिकार्ड में रखना चाहते हैं, इसलिए उसे बहस के लिए समय की जरूरत है। अदालत ने मामले की अगली सुनवाई के लिए आगामी 21 मार्च की तिथि निर्धारित की है। बंसल ने बयान दिया था कि पूर्व न्यायाधीश निर्मलजीत कौर के घर पैसे गलती से चले गए थे, जबकि यह निर्मल सिंह के पास जाना था। वहीं, संजीव बंसल ने 19 फरवरी को खुद को मामले से डिस्चार्ज किए जाने की अदालत में अर्जी की दायर की थी , जिस पर जांच एजेंसी को जवाब के लिए नोटिस जारी किया गया था। सीबीआई ने जवाब के लिए समय की मांग की।


बंसल ने अर्जी में खुद को मामले में गलत फंसाए का जिक्र किया है। अदालत में स्वास्थ कारणों के चलते पूर्व न्यायाधीश निर्मल यादव ने पेशी से छूट मांग ली। मामले की पिछली तिथि में पूर्व न्यायाधीश निर्मल यादव की उनके खिलाफ भारत सरकार के कानून एवं न्याय मंत्रालय के केस चलाए जाने की अनुमति संबंधी रिकार्ड की कॉपी की मांग संबंधी अर्जी को खारिज कर दिया गया था।