पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • फर्जी गरीबों के खिलाफ एफआईआर करें : रोहाणी

फर्जी गरीबों के खिलाफ एफआईआर करें : रोहाणी

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

भोपाल। विधानसभा अध्यक्ष ईश्वरदास रोहाणी ने पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री गोपाल भार्गव से कहा कि वे हर शहर में गरीबी रेखा का फर्जी राशन कार्ड बनवाने वाले एक व्यक्ति के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा दें। उनकी इस कार्रवाई से अन्य फर्जी गरीब खुद अपना राशन कार्ड निरस्त करा लेंगे।


नए राशन कार्ड बनाने के बारे में रोहाणी ने कहा कि इस बात का परीक्षण करवाया जाए कि एक माह में राशन कार्ड जारी हो रहे हैं या नहीं। यदि इस व्यवस्था में कहीं कोई दोष हो तो उसे भी ठीक कराएं। प्रश्नकाल में यह मामला कांग्रेस के महेंद्र सिंह कालूखेड़ा ने उठाया था।


वे चाहते थे कि नए राशन कार्ड जारी करने की समय सीमा निर्धारित कर दी जाए। रोहाणी के सुझाव पर भार्गव ने कहा कि यदि विपक्ष तैयार हो तो वे गरीबी रेखा के राशनकार्ड धारकों के घर पर उनके कार्ड का नंबर दर्ज कराने को राजी हैं। इससे फर्जी गरीब खुद चिन्ह्ति हो जाएंगे। रोहाणी ने उन्हें ऐसा न करने की सलाह देते हुए कहा कि यह संवेदनशील विषय है और चुनाव का वर्ष है।



रोहाणी ने दिलीप सिंह गुर्जर को भी समझाइश दी कि वे विधानसभा में गंभीर प्रश्न पूछा करें। गुर्जर ने नागदा की ग्रेसिम इंडस्ट्री के कैंटिन संचालन से संबंधित प्रश्न पूछा था। शिवमंगल सिंह तोमर के एक प्रश्न के उत्तर में गृह मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने बताया कि उच्च न्यायालय के आदेश के बाद शस्त्र लाइसेंस बनाने के लिए पुरानी दर से ही फीस ली जा रही है इस बारे में आदेश जारी कर दिए गए हैं, लेकिन उच्च आदेश के विरुद्ध उच्चतम न्यायालय में याचिका भी लगाई गई है। यदि सुप्रीम कोर्ट ने सरकार का पक्ष स्वीकार कर लिया तो ऐसे लोगों से शुल्क की वसूली की जाएगी।


विधायक परसराम मुद्गल ने बताया कि उनसे नई दर से फीस ली गई है। इस पर गुप्ता ने बताया कि यदि उच्चतम न्यायालय ने भी उच्च न्यायालय का आदेश बरकरार रखा तो ऐसे मामलों में राशि लौटा दी जाएगी। विधायक गिरिजाशंकर शर्मा ने धाराजी हादसे के दोषियों पर कार्रवाई का मुद्दा उठाया। उनका कहना था कि चालान के लिए जरूरी अनुमति नहीं दिए जाने से दोषियों को लाभ होगा। गृह मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने उन्हें आश्वस्त किया कि वे जरूरी औपचारिकताएं पूरी करा देंगे।