आईटीबीपी में नौकरी के नाम से फर्जी नियुक्ति देने वाला जालसाज गिरफ्तार / आईटीबीपी में नौकरी के नाम से फर्जी नियुक्ति देने वाला जालसाज गिरफ्तार

आईटीबीपी में नौकरी के नाम से फर्जी नियुक्ति देने वाला जालसाज गिरफ्तार

Aug 16, 2017, 08:27 PM IST
भोपाल। प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत भारत-तिब्बत सीमा पुलिस समेत अन्य विभागों में सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर बेरोजगार युवाओं को ठगने वाले एक बदमाश को सायबर पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपी नियुक्ति पत्र उच्च स्तरीय प्रिटिंग मशीन से प्रिंट करवाकर स्पीड पोस्ट से बेरोजगारों को भेजता था। सायबर पुलिस ने आरोपी के पास से 200 फर्जी नियुक्ति पत्र जब्त किए हैं। आरोपी स्वयं प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहा है।

-साइबर क्राइम पुलिस के मुताबिक सूरजपुर, जिला शाजापुर निवासी धर्मेंद्र सिंह ने शिकायत में बताया था कि वर्ष 2016 में आईटीबीपी (भारत-तिब्बत सीमा पुलिस) में आरक्षक के लिए आवेदन किया था। नियुक्ति के लिए प्रतियोगी परीक्षाएं भी दी थी। कुछ समय बाद आईटीबीपी में चयन का नियुक्ति पत्र मिला था। इसमें नौकरी दिलाने के लिए अमानत राशि के रूप में 41,200 रुपए धर्मेंद्र सिंह से लिए गए थे। कुछ समय बाद नौकरी न लगने पर धर्मेंद्र को संदेह हुआ कि उसके साथ धोखाधड़ी की गई है। जिस पर सायबर पुलिस ने धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया था।
-सायबर सेल एसपी शैलेंद्र सिंह चौहान ने बताया कि जांच के दौरान तथ्यों के आधार पर सामने आया कि सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर दिल्ली से कुछ लोगों द्वारा गिरोह संचालित किया जा रहा है। गिरोह के सरगना अंकित जाट (21) को साइबर पुलिस ने शाहदरा, दिल्ली से गिरफ्तार किया गया है। पुलिस सुमित चौधरी की तलाश कर रही है।
X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना