पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • १० को तय होगा दो नए मूल्यांकन केंद्रों का भविष्य, जीएसीसी व जीडीसी को बनाना है सेंटर

१० को तय होगा दो नए मूल्यांकन केंद्रों का भविष्य, जीएसीसी व जीडीसी को बनाना है सेंटर

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
इंदौर. देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी ने लगातार बिगड़ती मूल्यांकन व्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए जीएसीसी(शासकीय अटल बिहारी वाजपेयी कला एवं वाणिज्य कॉलेज) और ओल्ड जीडीसी को मूल्यांकन केंद्र बनाए जाने पर 10 नवंबर को निर्णय होगा। दोनों कॉलेजों के प्राचार्य की सहमति मिलने पर ही इसे आगे बढ़ाया जाएगा। दरअसल इसीलिए तथा अन्य मुद्दों पर चर्चा के लिए प्राचार्यों की बैठक बुलाई गई है। इसी में सारी प्रक्रिया तय होगी। निर्णय होने के बाद से दोनों कॉलेजों में कॉपियां जंचेगी। सभी प्रोफेसरों को कॉपियां जांचना होगी। प्राचार्य इसकी मानिटरिंग करेंगे। 1बैठक में इसके अलावा बैठक में मूल्यांकन केंद्र की व्यवस्थाओं पर सुधार पर भी चर्चा होगी।

अभी जरूरत ज्यादा है
दरअसल मूल्यांकन केंद्र पर भारी लापरवाही चल रही है। इसलिए अभी दो नए मूल्यांकन केंद्र की ज्यादा जरूरत है। यही कारण है कि आने वाले दिनों में 10 दिसंबर से जो सेमेस्टर परीक्षाएं होने वाली है, उसका मूल्यांकन बेहद टेढ़ी खीर होगा। ऐसे में प्रबंधन दो नए मूल्यांकन केंद्र को लेकर गंभीरता से काम कर रहा है।