पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • एक्जाम की घड़ी में डरें नहीं यह कर ला सकते हैं बेहतर रिजल्ट!

एक्जाम की घड़ी में डरें नहीं यह कर ला सकते हैं बेहतर रिजल्ट!

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

इंदौर। एक्जाम का दौर 1 मार्च से शुरू होने जा रहा है। मार्च महीना आते ही बच्चों के चेहरे पर साफ-साफ एक्जाम का प्रेशर दिखने लगता है। बेहतर परिणाम लाने के लिए वे दिन-रात एक कर देते हैं। उनके दिमाग में बस एक बात ही घूमती रहती है कि कैसे बेहतर करें। इसके लिए वे खाना-पीना, सोना तक भूल जाते हैं। बस दिखती है तो किताबें और नोट्स। बच्चों को इस कदर परेशान देख माता-पिता के साथ ही स्कूलों में भी उन्हें रिलैक्स होते हुए पढ़ाई करने की सलाह दी जाती है। इस बार बच्चों को एक्जाम फोबिया से निजात दिलाने के लिए कई स्कूलों में स्पेशल क्लासेस भी लगवाई हैं।


आगे की स्लाइड में देखें कैसे बचें एक्जाम फोबिया से ....