िदिहीिइिहदहरद लहीइरउज हीदरहीउीर / िदिहीिइिहदहरद लहीइरउज हीदरहीउीर

िदिहीिइिहदहरद लहीइरउज हीदरहीउीर

Oct 05, 2017, 06:13 PM IST
गुड़गांव. ऑटोमोबाइल कंपनी मारुति-सुजुकी के मानेसर स्थित प्लांट में गुरुवार को तेंदुआ घुस गया। इस वजह से पूरे दिन प्लांट बंद रहा और कंपनी को करीब 86 करोड़ रुपए का नुकसान उठाना पड़ा। तड़के 4 बजे यहां एक तेंदुआ पास के जंगल से भटककर प्लांट के इंजन डिपार्टमेंट में घुस गया था। एक शिफ्ट कैंसल करनी पड़ी और दूसरी शिफ्ट में काम देरी से शुरू हुआ। करीब साढ़े 6 एकड़ में फैले इंजन डिपार्टमेंट को पूरी तरह सील करके तेंदुए को पकड़ने की कोशिश की जा रही है। इस तरह हुआ कंपनी को करोड़ों का नुकसान...
- कंपनी के स्पोक्सपर्सन अंकित भारद्वाज ने DainikBhaskar.com को बताया, "तेंदुआ घुस आने की वजह से कंपनी को लगभग 86 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। अमूमन यहां रोज 2400 कारें तैयार होती हैं, टू-व्हीलर्स का भी प्रोडक्शन होता है। सुबह की शिफ्ट में काम नहीं होने की वजह से 1200 गाड़ियों का प्रोडक्शन प्रभावित हुआ, दूसरी शिफ्ट भी ढाई बजे की बजाय 45 मिनट देर से शुरू हुई। काम पूरी तरह से शुरू नहीं हो पाया है।"
2 हजार वर्कर्स लौटे, 100 पुलिस वाले तैनात
- इसके चलते सुबह की शिफ्ट में काम करने के लिए यहां इंडस्ट्री के गेट पर लगभग 2000 कर्मचारी पहुंचे, लेकिन जो लोग पहले से ही अंदर थे, वही बाहर की तरफ भागते नजर आए।
- काम करने आए कर्मचारियाें ने घंटों इंतजार किया, पर आखिर इन्हें घर भेज दिया गया। इसके बाद दोपहर ढाई बजे शुरू होने वाली दूसरी शिफ्ट में काम सवा 3 बजे शुरू हो सका।
- डीसीपी(साउथ) अशोक बक्शी ने बताया, "जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई थी, लोगों को बाहर निकाला गया और जहां तेंदुआ था उस जगह को सील करवाया गया। बचाव कार्य जारी है और करीब 100 पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं।"
सुरक्षाकर्मियों ने सोचा कोई कुत्ता होगा
- कंपनी के सुरक्षाकर्मी सुबह अपनी ड्यूटी पर तैनात थे, उसी दौरान उनकी नजर एक जानवर की परछाईं पर पड़ी। उन्होंने सोचा कि कोई कुत्ता होगा, लेकिन जब जानवर सामने आया तो उनके होश उड़ गए। कर्मचारियों ने शोर मचाया, जिसके चलते तेंदुआ प्लान्ट के अंदर घुस गया। इम्प्लॉई यूनियन के नेता कुलदीप जांघू ने बताया कि तेंदुए के घुस आने की खबर सुनते ही काम रोक दिया गया।
- मौके पर मौजूद लोगों बताया कि प्लान्ट में तेंदुए के घुसने की सूचना मिलते ही वन विभाग की टीम और पुलिस मौके पर पहुंच गई। प्लान्ट के अंदर तेंदुए को तलाश अभी जारी है।
पिंजरे में बंद करके लाई गई दो बकरियां
- यहां तक शाम करीब 4 बजे तेंदुए को फंसाने के लिए टीमों ने दो बकरियाें का इंतजाम किया गया। बकरियाें को पिंजरे में बंद करके मारुति इंडस्ट्री में लाया गया, ताकि उनके जरिए तेंदुए को पकड़ा जा सके।
X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना