8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

नई दिल्‍ली। प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भले ही कम बोलते हो और अपने ऊपर लगे आरोपों पर अधिकतर खामोश रहते हों, लेकिन वह इन दिनों अपने राजनीतिक गुरू की राह पर चल रहे हैं। मनमोहन सिंह के गुरू भी प्रधानमंत्री रह चुके हैं और उनके कार्यकाल के दौरान उन पर कई तरह के आरोप लगे।

प्रधानमंत्री रहने के दौरान मनमोहन सिंह के गुरू से भी जांच एजेंसी पूछताछ नहीं कर सकी, पर जब वह प्रधानमंत्री नहीं रहे, तो उन्‍हें जांच एजेंसी के सवालों का जवाब देने ही पड़े। वैसे प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी कोयला घोटाले की फाइलें खोने के मामले में भले ही अभी जांच से दूर हैं, लेकिन अपने गुरू की तरह उन्‍हें भी देर सवेर सीबीआई के सवालों का जवाब देना पड़ सकता है।

आगे पढ़िए कौन हैं मनमोहन सिंह के गुरू और उन पर क्‍या आरोप लगे थे।

ये भी पढ़िए

RECALL:जब भीड़ ने फाड़ डाले थे शिक्षिका के कपड़े, जानिये पूरा माजरा

SHAME: मैं जर्मनी से इंडिया आई थी, यहां हर मर्द ने मुझे घूरकर देखा

तिहरा हत्‍याकांड: रोहिणी कोर्ट ने नौ साल पुराने मामले में तीन आरोपियों को सुनाई सजा-ए-मौत

19 का प्रेमी और 40 की प्रेमिका, प्‍यार पाने के लिए रच डाली खौफनाक साजिश

जानिए कैसे हुआ आसाराम का पोटेंसी टेस्‍ट और पहले रात को क्‍यों होता था ये टेस्‍ट

दिल्‍ली गैंगरेप: आरोपियों की अर्जी खारिज, जज ने कहा, 'मैं 10 सितंबर को दूंगा फैसला

DU का फरमान: लड़कियां नहीं पहन सकती स्कर्ट और शॉर्ट्स

नाबालिग लड़की की रजामंदी से सेक्‍स कोई गुनाह नहीं: अदालत

प्रियंका गांधी के बचपन का प्‍यार थे राबर्ट वाड्रा, पहली नजर में हुआ था लव

PICS: अचानक कॉलेज की दीवार फांदने लगी ये लड़की, जब सच पता लगा