--Advertisement--

कैंसर के पहले महिलाओं की बॉडी में दिखने लगते हैं 8 संकेत, भूलकर भी न करें इग्नोर

महिलाओं की बॉडी में हमेशा चेंज आते रहते हैं। कभी-कभी नॉर्मल दिखने वाले चेंजेस कैंसर का संकेत हो सकते हैं।

Danik Bhaskar | Jul 12, 2018, 04:09 PM IST

हेल्थ डेस्क। महिलाओं की बॉडी में हमेशा चेंज आते रहते हैं। कभी-कभी नॉर्मल दिखने वाले चेंजेस कैंसर का संकेत हो सकते हैं। इसलिए महिलाओं को हमेशा अपनी बॉडी पर ध्यान देना चाहिए। जब कुछ चेंज नजर आए तो एलर्ट होना चाहिए। ये कहना है कैंसर रिचर्स सेंटर के डॉक्टर Robyn Andersen का। वे यहां कैंसर के संकेतों के बारे में भी बता रहे हैं। जिससे महिलाएं पता कर सकती हैं कि उन्हें कैंसर तो नहीं हो रहा।


ब्लॉटिंग
महिलाएं नेचुरल ब्लॉटर्स होती हैं ये कहना है मेडिकल सेंटर के ऑन्कॉलॉजिस्ट मरलीन मेयर्स का। लेकिन अगर 2 हफ्ते से ज्यादा ब्लॉटिंग हो रही है और इसके साथ ही वेट लॉस और ब्लीडिंग हो रही है तो डॉक्टर से कंसल्ट करें। लगातार होने वाली ब्लॉटिंग ब्रेस्ट, कॉलोन, गेस्ट्रो, ओवरियन आदि कैंसर का साइन हो सकती है। CT Scan और अल्ट्रा साउंड से इसका पता लगाया जा सकता है।

आगे की स्लाइड्स पर जानिए दूसरे संकेतों के बारे में...

पीरियड के बाद भी ब्लीडिंग होना 
अगर आपको पीरियड के अलावा भी ब्लीडिंग हो रही है तो डॉक्टर से कंसल्ट करना चाहिए। ये यूटेरस कैंसर का कारण हो सकता है। मेनोपॉज के बाद ब्लीडिंग होना भी नॉर्मल नहीं है। ऐसा होने पर तुरंत डॉक्टर से कंसल्ट करें। 

 

ब्रेस्ट चेंज 
ब्रेस्ट में होने वाली हर गठान कैंसर नहीं होती। लेकिन कुछ भी ऐसा फील होने पर डॉक्टर से जरूर कंसल्ट करें। ब्रेस्ट की स्किन में गढ्‌ढा पड़ना। निप्पल का शेप चेंज होना। निप्पल या ब्रेस्ट की स्किन में रेडनेस आना। अगर ये संकेत आपको दिखाई दें तो डॉक्टर से एक्जामिन करवाएं। इसमें मेमोग्राम और वायोप्सी की जा सकती है। 

 

स्किन में चेंज होना 
स्किन पर होने वाले स्पॉट, तिल आदि में चेंज होना या फिर नए स्पॉट बनना। ये सभी स्किन कैंसर के कॉमन साइन है। डॉक्टर से कंसल्ट करें वे बायोप्सी करवाकर इसकी जांच कर सकते हैं।  

 

यूरिन और स्टूल में ब्लड आना 
यूरिन या स्टूल में ब्लड आने पर डॉक्टर से तुरंत कसंल्ट करें। स्टूल में ब्लड आना कोलोन कैंसर का साइन हो सकता है। वहीं यूरिन में ब्लड आना ब्लैडर या किडनी कैंसर का संकेत हो है। 

 

निगलने में तकलीफ होना 
कभी-कभी ऐसा होना चिंता की बात नहीं है लेकिन ऐसा अगर बार-बार होता है और इसके साथ वेट लॉस और वॉमिटिंग भी होती है तो वो डॉक्टर से तुरंत कंसल्ट करें ये थ्रोट और स्टमक कैंसर के संकेत हो सकते हैं। इसके लिए एंडोस्कॉपी और सीटी स्केन किया जाता है। 

 

बिना कोशिश के वेट लॉस होना 
सभी महिलाएं वेट कम होने से खुश हो जाती हैं लेकिन बिना एक्सरसाइज और डाइट चेंज किए बिना वेट लॉस होना कैंसर का संकेत है। इसे इग्नोर किए बिना डॉक्टर से कंसल्ट करना चाहिए। ये स्ट्रेस के कारण हो सकता है इसके अलावा ये कोलोन कैंसर, स्टमक और लंग कैंसर का भी संकेत है। 

 

फीवर 
बार- बार फीवर आना और ठीक न होना ब्लड कैंसर का संकेत हो सकता है। आपका डॉक्टर आपकी मेडिकल हिस्ट्री को चेक करके और एक्जामिन करके इसके कारण का पता लगाएंगे।