--Advertisement--

पुरानी कार का AC भी देने लगेगा नई के जैसी ठंडी हवा, बस हमेशा करें ये 5 काम

पुरानी कार का AC काम नहीं कर रहा है तब प्रॉब्लम AC की नहीं, बल्कि उसे गलत तरीके से यूज करने की हो सकती है।

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 12:02 AM IST

ऑटो डेस्क।  गर्मी में पारा जब 40 डिग्री को पार कर जाता है, तब कार का AC भी काम करना बंद कर देता है। कई बार तो नई कार का एयर कंडीशनर भी ठंडी हवा नहीं देता। या फिर वो ठंडी हवा तो देता है लेकिन कार ठंडी नहीं हो पाती। यदि आपकी कार पुरानी है और उसका AC भी कार ठंडी नहीं कर रहा है तब प्रॉब्लम AC की नहीं, बल्कि उसे गलत तरीके से यूज करने की होती है। ऐसे में हम यहां कार AC से जुड़ी उन गलतियों के बारे में बता रहे हैं जिन्हें फिक्स किया जाए, तो पुरानी कार का ठंडी हो जाएगी।

 

1. गर्म हवा निकालें

 

यदि कार ऐसी जगह पर खड़ी है जहां उसके ऊपर धूप आ रही है, तो वो अंदर से गर्म होने लगती है। वहीं, जब हम इसे यूज करते हैं तब डायरेक्ट डोर को लॉक करके AC चालू कर देते हैं। जबकि ऐसा नहीं करना चाहिए। सबसे पहले कार की अंदर की गर्म हवा को बाहर निकालना चाहिए। इसके लिए, कार के सभी गेट को पूरा खोल दें। अब कार का फैन ऑन कर लें। इससे फैन से आ रही गर्म हवा भी निकल जाएगा। अब गेट बंद करें और फिर AC ऑन करें। इस बात का भी ध्यान रहे कि AC को ठंडी हवा देने में थोड़ा सा वक्त लगता है।

 

आगे की स्लाइड्स पर जानिए कार के AC को ज्यादा इफेक्टिव बनाने के टिप्स...

 

 

2. सन वाइजर का यूज

 

गर्मी के मौसम में हमेशा सन वाइजर का इस्तेमाल करना चाहिए। इसके दो फायदे होते हैं। पहला कि जब सन वाइजर को सभी विंडो पर लगा दिया जाता है तब धूप कार के अंदर नहीं आती। जिससे गाड़ी अंदर से गर्म नहीं होती। दूसरी ये, कि AC की क्षमता बढ़ जाता है। यदि कार के अंदर धूप आती रहती है तब AC उसे अंदर से ठंडा नहीं कर पाता। सन वाइजर को कार के बैक शीशे पर भी लगाना चाहिए। सन वाइजर के जगह आप पर्दे भी लगा सकते हैं।

 

 

3. फ्रेश एयर प्वाइंट बंद करें

 

कार में एयर के लिए दो अलग-अलग प्वाइंट होते हैं। जिसमें एक फ्रेश एयर और दूसरा कार के अंदर की एयर का होता है। गर्मी के मौसम में बाहर से हवा अंदर आने वाले प्वाइंट को बंद कर देना चाहिए। ये इसलिए जरूरी है कि अगर कार के अंदर AC चल रहा है तब बाहर वाले प्वाइंट से फ्रेश एयर के साथ गर्म हवा भी आती है। जिससे कार के अंदर की कूलिंग कम हो जाती है।

 

 

4. AC प्वाइंट को वैक्यूम करें

 

आपकी कार में AC के जितने भी प्वाइंट हैं, उन्हें वैक्यूम की मदद से साफ करें। कई बार कार के प्वाइंट पर डस्ट जमा होने लगती है। ये डस्ट अगर पाइप के अंदर पहुंच जाती है तो हवा आने वाले रास्ते को ब्लॉक कर देती है। ऐसे में AC से कम हवा आता है। इसलिए जब भी आप कार की सफाई करें उसके एयर कंडीशनर वाले प्वाइंट पर वैक्यूम जरूर करें।

 

 

5. विंडो लॉक रखें

 

इस बात को सुनिश्चित करें कि जब आप ड्राइव कर रहे हैं और कार का AC चल रहा है तब कार की सभी विंडो बंद हों। इसके लिए आपको सभी विंडो को चेक करके लॉक कर देना चाहिए। कई बार पीछे की तरफ बैठे लोग किसी काम के लिए विंडो ओपन करते हैं और उसे अच्छी तरह बंद नहीं करते। ऐसे में AC की कूलिंग बाहर निकलती है। साथ ही, बाहर की गर्म हवा कार के अंदर आती है।

 

 

6. AC डायरेक्शन नॉब का यूज

 

कार के AC में मल्टी एयर ट्रांसफर नॉब होती है। यानी हवा सामने के साथ पैरों पर और चारों तरफ जाती है। उसका यूज करना चाहिए। इसके कार तेजी से ठंडी होती है। जब कार ठंडी हो जाए तब उसके किसी एक डायरेक्शन में फिक्स कर सकते हैं। इस बात का ध्यान रखें की हर साल AC की कूलिंग 15% तक या उससे भी ज्यादा कम हो जाती है। ऐसे में यदि आपने 5 साल से AC की सर्विस नहीं कराई है तब उसकी सर्विस जरूर कराएं।