• Hindi News
  • Education
  • Chanakya Neeti, Rules of drinking Water By Chankya, चाणक्य नीति
--Advertisement--

चाणक्य नीति: पानी पीते समय ध्यान रखें ये बातें, वरना पानी बनेगा धीमा जहर

Dainik Bhaskar

May 04, 2018, 02:47 PM IST

chanakya niti: चाणक्य ने बताया कि गलत समय पर पानी पीने से वह जहर हो जाता है।

Chanakya Neeti, Rules of drinking Water By Chankya, चाणक्य नीति

आचार्य चाणक्य ने राजनीति और अर्थशास्त्र के अलावा ज्योतिष और आयुर्वेद के ग्रंथ भी लिखें हैं। वो इन विषयों के भी बड़े जानकार थे। चाणक्य ने अपनी नीतियों में स्वस्थ मानव जीवन के सूत्र भी दिए हैं। उन्होंने अपनी एक नीति में बताया है कि गलत समय पर पानी पीने से वह जहर के समान काम करता है और धीरे-धीरे शरीर को कमजोर बना देता है। इस नीति में ऐसा समय बताया है जब पानी पीने से नुकसान हो सकता है।

आचार्य चाणक्य कहते हैं कि -

अजीर्णे भेषजं वारि जीर्णे वारि बलप्रदम्।
भोजने चाऽमृतं वारि भोजनान्ते विषप्रदम्।।

चाणक्य नीति के अनुसार ऐसे होती है अच्छे-बुरे इंसान की पहचान

चाणक्य नीति के आठवें अध्याय के सातवें श्लोक में बताया है कि खाना खाने के तुरंत बाद पानी नहीं पीना चाहिए। इस समय पिया गया पानी जहर के समान काम करता है। जब तक खाना पच न जाए, तब तक पानी नहीं पीना चाहिए। खाना खाने के बाद 1-2 घंटे तक पानी नहीं पीना चाहिए। खाना खाने के बाद ज्यादा पानी पी लेने से भोजन पचने में परेशानी होती है। इससे शरीर को ताकत नहीं मिलती और पेट के रोग होने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। खाना खाते समय बीच में थोड़ा सा पानी पी सकते हैं, लेकिन ज्यादा पानी पीना नुकसानदायक हो सकता है।

कब पिएं पानी -

चाणक्य के अनुसार पूरी तरह खाना पचने के बाद पानी पीना चाहिए। इस समय वह अमृत के समान काम करता है। इससे शरीर को ताकत मिलती है और पाचन तंत्र भी स्वस्थ रहता है। इसके साथ ही कब्ज, गैस, अपच जैसी समस्या नहीं होती है।

इसके अलावा खाना खाने के 1 घंटे पहले पानी पी सकते हैं, लेकिन खाना खाने के तुरंत पहले भी पानी नहीं पीना चाहिए। इससे जठराग्नि मंद हो जाती है।

चाणक्य के बारे में कुछ बातें -

आचार्य चाणक्य ने अपनी नीतियों से एक सामान्य बालक चंद्रगुप्त को अखंड भारत का सम्राट बनाया था। चाणक्य तक्षशिला में अर्थशास्त्र के आचार्य थे, उनकी राजनीति में भी गहरी पकड़ थी। आचार्य ने चाणक्य नीति नामक ग्रंथ की रचना की थी। इस ग्रंथ में जीवन में सुख रहने और अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए सूत्र बताए गए हैं। जो व्यक्ति इन सूत्रों को अपना लेता है, वह अपने निर्धारित लक्ष्य तक पहुंच जाता है।

X
Chanakya Neeti, Rules of drinking Water By Chankya, चाणक्य नीति
Astrology

Recommended

Click to listen..