रायपुर एयरपोर्ट में 80 हजार की नौकरी का झांसा, फोन पर ही करवा रहे पैसे जमा / रायपुर एयरपोर्ट में 80 हजार की नौकरी का झांसा, फोन पर ही करवा रहे पैसे जमा

दिल्ली के गिरोह पर शक, पैसे देने वाले बेरोजगार रोज पहुंच रहे नौकरी के लिए

Bhaskar News

Dec 29, 2015, 03:39 AM IST
रायपुर एयरपोर्ट। फाइल फोटो। रायपुर एयरपोर्ट। फाइल फोटो।
रायपुर. माना एयरपोर्ट में नौकरी की बहार, अनपढ़ों को भी 30 हजार की सैलरी और 10वीं-12वीं पास को 80 हजार की मोटी तन्ख्वाह का झांसा देकर फोन पर ही बेरोजगारों को जाल में फंसाया जा रहा है।
उसके बाद उन्हें सुपरवाइजर, हेल्पर, ग्राउंड स्टॉफ, स्टोर मैनेजर, ऑफिस स्टॉफ और स्टोर मैनेजर जैसे पदों पर भर्ती लालच देकर उनसे 20-20 हजार तक कागजी कार्रवाई के नाम पर ऑन लाइन सिस्टम से मंगवाए जा रहे हैं। पूरे गोलमाल का भांडा तब फूटा जब बेरोजगार नौकरी के लिए एयरपोर्ट पहुंचे।
पुलिस में शिकायत होने के बाद जांच शुरू कर दी गई है। अभी तक दो पीड़ितों ने लिखित में शिकायत की है। हालांकि एयरपोर्ट पर रोज कोई न कोई अपनी नौकरी के बारे में जानकारी लेने पहुंच रहा है। जालसाजों ने बेरोजगारों को फांसने के लिए विज्ञापन का सहारा लिया। अलग-अलग तरीके से नौकरी का विज्ञापन जारी किया गया। शुभम् कुमार और पुष्पेंद्र ने भी कुछ दिन पहले माना स्थित स्वामी विवेकानंद इंटरनेशनल एयरपोर्ट के लिए नौकरी का विज्ञापन देखा।
कम पढ़े लिखे बेरोजगारों के लिए इतनी मोटी तन्ख्वाह का ऑफर दिया गया था कि दोनों इसके झांसे में आ गए। विज्ञापन में दिए गए फोन नंबर पर उन्होंने संपर्क किया। दोनों नंबर दिल्ली के थे। उनका फोन महिलाकर्मी ने उठाया और अपने आप को विमानन प्राधिकरण के कर्मचारी बताया और कहा कि वे दिल्ली मुख्यालय से बोल रहे हैं। रायपुर के इंटरनेशनल एयरपोर्ट के लिए नौकरी का विज्ञापन उन्होंने ही निकाला है। बात इतने सलीके से की गई कि दोनों बातों में आ गए।
रायपुर में जॉब, मकान और सुविधाओं का ऑफर
टीवी-अखबारों के साथ ई-मेल और वाट्सएप में भी इस तरह की नौकरी का झांसा देने वाले मैसेज प्रसारित किए जा रहे हैं। इसमें बताया जाता है कि रायपुर एयरपोर्ट में अलग-अलग पदों पर नौकरी के लिए बेरोजगारों की जरूरत है। अनपढ़ से लेकर 8 वीं, 10 वीं और 12 वीं युवकों की आवश्यकता है। 30 हजार रुपए से 84 हजार रुपए प्रति माह वेतन के साथ कई सारी सुविधाओं का झांसा दिया जा रहा है। इसमें सरकारी मकान, फ्री में खाना, बोनस, मोबाइल,लैपटॉप, मेडिकल सुविधा समेत अन्य लाभ मिलने का दावा किया जाता है।
किसी को शक न हो इसके लिए बेरोजगारों से उनके शैक्षणिक दस्तावेज जमा कर रजिस्ट्रेशन और वेरीफिकेशन फीस के नाम पर पैसा जमा करवाए जाते हैं।
बैंक में जमा करवाए पैसे
फोन रिसीव करने वाली महिला कर्मचारी ने रजिस्ट्रेशन फीस के नाम पर 1700 मांगे और बैंक अकाउंट नंबर दिया। इसके बाद ज्वॉइनिंग लेटर और आगे की प्रक्रिया के बारे में दोबारा शुभम् ने फोन किया। महिला कर्मी ने और फीस जमा करने को कहा। कहा गया कि उन्हें जल्द ही ज्वाइनिंग लेटर जारी किया जाएगा। इसके लिए करीब 10 हजार रुपए जमा करने होंगे। उन पैसों से ड्रेस, जूते, फिजिकल वेरीफिकेशन रिपोर्ट, गेट पास और सैलरी अकाउंट खोलने के नाम पर पैसे जल्द से जल्द जमा करने को कहा गया।
दिल्ली के साथ बाहरी राज्य का गिरोह सक्रिय
पुलिस अधिकारियों के अनुसार पिछले कुछ सालों से एयरपोर्ट समेत अन्य सरकारी विभागों में बिना इंटरव्यू और मोटे वेतन का झांसा देने वाले विज्ञापन प्रसारित करवाए जाते हैं। इनमें जो फोन नंबर दिए जाते हैं, वे अधिकतर दिल्ली और उसके आस-पास के राज्यों के होते हैं। उनके द्वारा जिन बैंक अकाउंट नंबर पर पैसा जमा करने को कहा जाता है, वह भी फर्जी दस्तावेजों के जरिये खोले जाते हैं। इस कारण से न तो उनके मोबाइल नंबर की सही जानकारी मिल पाती है न ही बैंक खाते धारक की।
जालसाजी के पीछे संगठित गिरोह
रायपुर एयरपोर्ट में अक्सर रोजाना युवा आकर नौकरी लगने और अपने ज्वॉइनिंग लेटर के बारे में पूछने आते हैं। उनसे जानकारी मिली कि कुछ फर्जी गिरोह बेरोजगारों को झांसे में लेने के लिए इस तरह का प्रचार-प्रसार करते हैं। उनसे पैसे ठग रहे हैं। इसके पीछे संगठित गिरोह है।
संतोष धोके, डायरेक्टर, विवेकानंद इंटरनेशनल एयरपोर्ट रायपुर

जागरूकता दिखाएं, ऑफर में न आएं
सरकारी विभागों में नौकरी के साथ अन्य तरीकों से लोन और मोबाइल टॉवर लगाने का झांसा देकर लोगों के साथ ठगी की जाती है। इस तरह से शार्टकट तरीके से नौकरी या लोन नहीं मिलता है। अगर कोई झांसा दे रहा है तो उसका वेरीफिकेशन कर ही आगे की प्रक्रिया करें। ऐसे ऑफर और फोन कॉल से बचे और पुलिस को समय रहते सूचना दें।
बीएन मीणा, एसपी रायपुर
X
रायपुर एयरपोर्ट। फाइल फोटो।रायपुर एयरपोर्ट। फाइल फोटो।
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना