राजनांदगांव के कोरोना पीड़ित के साथ सफर कर रहे 6 लोगों को क्वारेंटाइन में रखा गया

Korba News - राजनांदगांव में बुधवार को जो व्यक्ति कोरोना पीड़ित निकला है, उसके साथ सफर करने वाले कोरबा के एक ही परिवार के 6...

Mar 27, 2020, 07:05 AM IST

राजनांदगांव में बुधवार को जो व्यक्ति कोरोना पीड़ित निकला है, उसके साथ सफर करने वाले कोरबा के एक ही परिवार के 6 सदस्यों को क्वारेंटाइन में रखा गया है। ये सभी रसियन हाॅस्टल में बनाए गए क्वारेंटाइन सेंटर में डॉक्टरों की निगरानी में हैं। अब तक जिले में 1470 लोगों को होम आइसोलेट किया गया है। जिनमें अधिकांश कोरबा नगर निगम क्षेत्र के हैं।

क्वारेंटाइन किया गया यह परिवार अमरैय्यापारा का रहने वाला है। जिन्हें क्वारेंटाइन किया गया है उसमें पति, प|ी, पति के माता-पिता व दो बच्चे शामिल हैं। ये सभी लोग बीते 15 मार्च को राउरकेला से चांपा तक हावड़ा मुंबई मेल में आए थे। दरअसल बुधवार को जब राजनांदगांव में कोरोना पीड़ित का पता चला तब वहां से उसकी ट्रेवल हिस्ट्री पता की गई। वह थाईलैंड से कोलकाता एयरपोर्ट पर आने के बाद हावड़ा मुंबई मेल से 15 मार्च को रवाना होकर 16 मार्च को राजनांदगांव पहुंचा था। इसके बाद रेलवे से मदद लेकर प्रशासन ने उस कोच में उसके साथ सफर करने वाले सहयात्रियों का पता लगाकर संबंधित जिला प्रशासन को सूचित किया। एक डॉक्टर का कहना है कि कोरबा के इन 6 मरीजों में परीक्षण में कोरोना के लक्षण नहीं दिखे हैं। वहीं इनके कोरोना पीड़ित के साथ सफर करने के 10 दिन हो चुके हैं। फिर भी इनमें से दो का ब्लड सैंपल परीक्षण के लिए एम्स भेजा गया है। पूर्व में जिन 4 लोगों को क्वारेंटाइन में रखा गया था उन्हें स्वस्थ पाए जाने पर घर जाने दिया गया है। होम आइसोलेशन का आंकड़ा पिछले 22 मार्च को जनता कर्फ्यू के बाद तेजी से बढ़ा है। वहीं मंगलवार की रात प्रधानमंत्री द्वारा 3 सप्ताह के लॉक डाउन घोषणा के बाद बड़ी संख्या में लोग अपने घरों को आए हैं। यहां के बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएं दूसरे शहरों में पढ़ रहे हैं। वे भी लौटे हैं। होम आइसोलेशन का आंकड़ा बढ़ने का एक कारण यह भी है कि लोग सजग हो गए हैं। वे प्रशासन, पुलिस व प्रदेश के कंट्रोल रूम पर अपने पास पड़ोस में आने वाले लोगों की सूचना दे रहे हैं। कलेक्टर किरण कौशल ने कहा है कि पिछले दिनों दूसरे जिले, दूसरे प्रदेश या विदेश से जो भी यहां आए हैं, उन्हें अपनी ट्रेवल हिस्ट्री नहीं छुपानी चाहिए।

7 सेंपल में से 4 निगेटिव 2 की रिपोर्ट अभी पेंडिंग


जिला अस्पताल में एक व्यक्ति को आइसोलेशन में रखा गया है। इसका भी ब्लड सेंपल जांच के लिए भेजा गया है। अब तक यहां से 7 सेंपल भेजे गए थे, जिसमें से 4 निगेटिव आए हैं। एक सेंपल को कोरोना परीक्षण के लिए तय दायरे में न आने के कारण रिजेक्ट किया गया है, वहीं दो की रिपोर्ट बाकी है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना