भूपेश बोले- रेणुका के पास तो फाइल भी नहीं आती, क्या कैबिनेट में बैठती भी हैं?

News - मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने धान बोनस के मुद्दे पर छत्तीसगढ़ सरकार पर हमला बोलने वाली केंद्रीय राज्य मंत्री रेणुका...

Bhaskar News Network

Nov 10, 2019, 07:21 AM IST
Kendri News - chhattisgarh news bhupesh said renuka does not even have a file does she even sit in the cabinet
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने धान बोनस के मुद्दे पर छत्तीसगढ़ सरकार पर हमला बोलने वाली केंद्रीय राज्य मंत्री रेणुका सिंह पर तीखा हमला बोलते हुए कहा कि इस मामले में वे पीएम से लेकर केंद्र के सभी जिम्मेदार मंत्रियों से मिलकर चर्चा कर चुके हैं तो रेणुका से क्या बात करते। रेणुका के पास न तो फाइल आती है और न ही वे कैबिनेट में बैठती हैं।

कुछ दिन पहले रेणुका सिंह ने इस मुद्दे पर सीएम भूपेश बघेल पर हमला बोलते हुए कहा था कि बोनस के लिए क्या कांग्रेस ने केंद्र से मंजूरी ली थी? वादा करने से पहले इसके लिए बजट में फंड का प्रावधान करना था। सरगुजा दौरे के दूसरे दिन सीएम सिलफिली के हाई स्कूल मैदान में आयोजित किसान सभा में धान खरीदी के मुद्दे पर पीएम मोदी के साथ-साथ केंद्रीय राज्य मंत्री रेणुका सिंह पर भी हमलावार रहे। कहा कि 2013 में भाजपा ने किस से पूछ कर वादा किया था। सीएम ने लोगों से पूछा कि 25 सौ रुपए क्विंटल धान खरीद कर रहे हैं तो कोई अपराध तो नहीं कर रहे हैं। हम केंद्र से पैसा नहीं मांग रहे हैं। जब छत्तीसगढ़ से कोयला, लोहा और बाक्साइट ले रहे हैं तो फिर चावल क्यों नहीं?

मुख्यमंत्री ने मंत्रियों के साथ केनापारा जलाशय में बोटिंग की

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केज से निकाली मछली और मंत्रियों के साथ बोटिंग का आनंद लिया।

दिल्ली में कांग्रेस का प्रदर्शन किया स्थगित

अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद कांग्रेस का धान खरीदी के मुद्दे पर दिल्ली में होने वाला प्रदर्शन रद्द कर दिया गया है। सीएम ने सिलफिली में सभा में कहा कि 13 नवंबर को हम किसानों के साथ दिल्ली में पीएम से हक मांगने जा रहे थे। प्रदेश भर से किसान इसमें शामिल होने वाले थे। यह प्रदर्शन अब कुछ दिनों बाद होगा।

लटोरी को दिया तहसील का दर्जा

सीएम ने सूरजपुर जिले के लटोरी को भी तहसील का दर्जा दिए जाने की घोषणा की है। क्षेत्र के विधायकों की मांग पर सीएम ने सभा में कहा कि लटोरी को तहसील बनाया जाएगा जिससे लोगों को सुविधा होगी। सीएम ने एक दिन पहले ही बलरामपुर जिले के रामचंद्रपुर और चांदों को भी इसी तरह से सभा में तहसील की घोषणा की थी।

150 करोड़ के कार्यों का किया लोकार्पण

मुख्यमंत्री ने करीब 150 करोड़ की लागत से निर्माण कार्यों का शिलान्यास व भूमिपूजन किया। सभा को प्रभारी मंत्री उमेश पटेल, भटगांव विधायक पारस राजवाड़े ने भी संबोधित किया। कलेक्टर दीपक सोनी ने सभा में कार्यों की जानकारी दी। कार्यक्रम में मंत्री अमरजीत भगत, डॉ प्रेमसाय सिंह,खेलसाय सिंह, एसपी राजेश कुकरेजा मौजूद थे।

सीएम बोले- खेतों व नालों में खूब पकड़ते थे टेंगना और मोंगरी

बिश्रामपुर | मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सूरजपुर जनपद अंतर्गत ग्राम पंचायत केनापारा में बनाए गए वाटर बोटिंग व फ्लोटिंग रेस्टोरेंट स्थल में 600 मीटर तक बोटिंग का आनंद लिया। उनके साथ बोट में मंत्री डाॅ. प्रेमसाय सिंह, अमरजीत भगत, उमेश पटेल व विधायक बोट में सवार थे।

केज कल्चर में मुख्यमंत्री ने स्वयं मछ लियों को जाली से बाहर निकाला। निकाली गई मछली को अधिकारियों ने बताया कि यह पंगेशियस प्रजाति की है तो मुख्यमंत्री ने कहा कि इस मछली को छत्तीसगढ़ी में ‘टेंगना‘ कहते हैं। यह मछली पकड़ने पर कांटा वार करता है, जिससे तेज दर्द होता है। उन्होंने अपने बचपन के दिनों की याद ताजा करते हुए कहा कि गांव के खेत एवं नालों में टेंगना, मोंगरी एवं केवच खूब पकड़ा करते थे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जलाशय के मध्य में जिला प्रशासन द्वारा मत्स्य पालन के लिए विकसित केज कल्चर को देखा और मछली पालन के केज कल्चर पद्धति की जानकारी ली।







अधिकारियों ने बताया कि केज कल्चर में यहां पंगेशियस प्रजाति के मछली का पालन किया जा रहा है। यहां 32 केज स्थापित किए गए हैं। अभी मछलियों का वजन अधिकतम एक किलो है। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से कहा कि मछली पालन करने वाले समूह को स्वरोजगार से जोड़ने के लिए शासन की योजनाओं का पूरा लाभ दें। उन्हें मछली पालन के लिए आवश्यक प्रशिक्षण देकर कुशल बनाएं। ग्रामीणों की आय बढ़ाने के लिए मछली पालन एक अच्छा माध्यम है। ज्ञात हो कि एसईसीएल की बंद पोखरी खदान में जिला प्रशासन के प्रस्ताव पर एसईसीएल द्वारा 1.97 करोड़ की लागत से मत्स्य पालन, बोटिंग एवं कैंटीन स्था पित किया गया है। जलाशय में केनापरा के महामाया मछुआ समिति को मत्स्य पालन रोजगार से जोड़ा गया है। प्रति केज दो टन मछली पालन से प्रतिवर्ष करीब 14 लाख शुद्ध लाभ होने का अनुमान है। जलाशय में ग्राम केनापरा के शिव शक्ति ग्राम संगठन द्वारा बोटिंग एवं कैंटीन का संचालन किया जा रहा है। इस संगठन में 123 महिला सदस्य हैं। यहां महिलाएं स्वयं बोट चलाकर पर्यटकों को जलाशय का भ्रमण कराते हैं। बोटिंग के दौरान सविप्रा अध्यक्ष खेलसाय सिंह, भटगांव विधायक पारसनाथ राजवाड़े, कलेक्टर दीपक सोनी, एसपी राजेश कुकरेजा मौजूद थे।

X
Kendri News - chhattisgarh news bhupesh said renuka does not even have a file does she even sit in the cabinet
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना