नक्सल इलाकों की पुलिस भर्ती में बस्तर के युवाआें पर विचार

News - नक्सल इलाकों में तैनाती के लिए होने वाली पुलिस भर्ती में वहां के स्थानीय बेरोजगार युवाआें को ही नौकरी देने पर...

Sep 14, 2019, 07:40 AM IST
नक्सल इलाकों में तैनाती के लिए होने वाली पुलिस भर्ती में वहां के स्थानीय बेरोजगार युवाआें को ही नौकरी देने पर विचार चल रहा है। दरअसल नक्सल इलाकों से बाहर निकलने के लिए तबादलों के आवेदनों को देखते हुए राज्य सरकार ऐसी प्लानिंग कर रही है। गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने मीडिया से बातचीत में ये बातें कहीं।

राजीव भवन में लोगों आैर कार्यकर्ताआें से मुलाकात के बाद पत्रकारों से साहू ने कहा कि लोग अपनी समस्याएं लेकर आए थे उन्हें संबंधित अधिकारियों को निराकरण करने के लिए निर्देशित किया गया है। सामान्य तरह की समस्याएं ज्यादा थी। इसके अलावा कुछ तबादलों के भी आवेदन थे। नक्सल इलाकों से अन्य क्षेत्रों में जाने के लिए प्रयासरत अधिकारियों, कर्मचारियों पर गृहमंत्री ने कहा कि यह समस्या तब तक बनी रहेगी जब तक अन्य जिलों के लोगों को बस्तर में तैनात किया जाता रहेगा। क्योंकि वहां के अधिकतर पुलिसकर्मी बाहर आना चाहते हैं लेकिन वहां पर फोर्स की जरुरत है इसलिए ऐसा करना संभव नहीं है।

इसलिए सरकार इस प्रयास में लगी है कि आने वाले समय में बस्तर क्षेत्र के पुलिस के रिक्त पदों पर निकाली जाने वाली भर्तियों में स्थानीय युवाआें को ही प्राथमिकता दी जाएगी ताकि वे वहां पर बेहतर तरीके से कार कर सकें। क्योंकि वह अपने क्षेत्र के भलीभांति परिचित होने के साथ-साथ वहां के लोगों की भाषा आैर बोली को भी समझता है। साहू ने कहा कि यदि ऐसा हो गया तो बस्तर के युवाआें को रोजगार भी मिलेगा आैर बस्तर से आने वाले तबादलों के आवेदन भी खत्म हो जाएंगे। पुलिस भर्ती रद्द किए जाने पर उन्होंने कहा कि यह मामला अभी विचाराधीन है।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना