1756 में जन्मे थे घासीदास... इतने ही दीये जलाकर पूजा की

News - रायपुर | दिसंबर की शुरुआत के साथ गुरु घासीदास जयंती महोत्सव की शुरुआत भी हो गई है। खमतराई सतनामी समाज ने मंगलवार...

Dec 04, 2019, 08:40 AM IST
Raipur News - chhattisgarh news ghasidas was born in 1756 worshiped by burning as many lamps
रायपुर | दिसंबर की शुरुआत के साथ गुरु घासीदास जयंती महोत्सव की शुरुआत भी हो गई है। खमतराई सतनामी समाज ने मंगलवार सुबह 5 बजे स्थानीय जैतखाम में 1756 दीये जलाकर पूजा-अर्चना की। समाज के अध्यक्ष सुरेश लहरे और सचिव गोविंद सोनवानी ने कहा कि गुरु घासीदास का जन्म सन् 1756 में गिरौदपुरी में हुआ था। इसीलिए दीये भी इतनी ही संख्या में जलाए गए थे। इसके बाद प्रभात फेरी निकाली गई। मंगल भजन भी गाए गए। इस दौरान अश्विन गिलहरे, मिथलेश लहरे, लक्ष्मण डेंगरे, बीरू लहरे, लता सोनवानी, गिरिजा टंडन, धर्मीन लहरे, पुष्पा रात्रे, महेश्वरी लहरे, मंजू लहरे आदि मौजूद रहे।

X
Raipur News - chhattisgarh news ghasidas was born in 1756 worshiped by burning as many lamps
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना