• Hindi News
  • National
  • Korba News Chhattisgarh News Negligence Hasdev River Blackened And Contaminated Due To Coal Mine Water Threat To People And Cattle

लापरवाही: कोयले की खदान के पानी से हसदेव नदी हुई काली व दूषित, लोगांे और मवेशियों को खतरा

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

सर्वमंगला रेलवे पुल के पास नदी का पानी खराब

वह खदान का नाला... जिसका पानी नदी में जा रहा

एसईसीएल कुसमुंडा खदान से निकल रहा काला पानी, अफसर बेपरवाह

_photocaption_कोरबा| एसईसीएल कुसमुंडा माइंस से निकल रहा काला पानी हसदेव नदी में मिल रहा है। इससे नदी का पानी प्रदूषित हो रहा है। बुधवार को सर्वमंगला पुल के ऊपर से गुजर रहे लोगों की नजर जब नदी की तरफ पड़ी तो उनको हसदेव नदी का पानी काला दिखाई दिया। पहले तो लगा कि किसी बिजली प्लांट से कैमिकल युक्त पानी नदी में छोड़ा गया है। लेकिन बाद में पता चला कि ऐसा नहीं है। बल्कि नदी में समाने वाला प्रदूषित पानी कुसमुंडा खदान की तरफ से नाला से बहकर नदी में आ रहा है। कोयला मिश्रित होने के कारण पानी भी काला है। यह पानी खदान की तरफ से बरहमपुर के नाला में आता है। यहां से होकर पानी नदी तक पहुंच रहा है। यहां के लोगों ने भी कहा कि खदान से निकला काला पानी नाले से होकर नदी में समा रहा है। बीते कुछ दिनों से ऐसा हो रहा है। इससे निस्तारी कार्य में दिक्कत हो रही है। कोयला मिश्रित पानी की वजह से जहां नदी प्रदूषित हो रही है। वहीं इसकी वजह से नदी तट के आसपास भी कालापन दिखाई पड़ रहा है। इस बारे में एसईसीएल कुसमुंडा प्रबंधन के अधिकारी से मोबाइल से जानकारी लेने की कोशिश की गई, लेकिन संपर्क नहीं हो सका। मामले में पर्यावरण संरक्षण मंडल के अधिकारी आरपी शिंदे ने कहा कि इसकी जानकारी लेकर कार्रवाई की जाएगी।*photocaption*
खबरें और भी हैं...