ओजस्वी ने जांच आयोग को दी घटना के पहले की जानकारी

News - नक्सलियों द्वारा भाजपा विधायक भीमा मंडावी की हत्या के मामले में बनाए गए विशेष न्यायिक जांच आयोग ने बयानों के...

Oct 13, 2019, 07:30 AM IST
नक्सलियों द्वारा भाजपा विधायक भीमा मंडावी की हत्या के मामले में बनाए गए विशेष न्यायिक जांच आयोग ने बयानों के परीक्षण के लिए शनिवार को 11 लोगों को बुलाया था। इनमें से 10 उपस्थित हुए। आयोग के अध्यक्ष न्यायमूर्ति सतीश के अग्निहोत्री ने ओजस्वी भीमा मंडावी और उपमहाधिवक्ता रजनीश सिंह बघेल को सुनने के बाद सबसे पहले घटना से जुड़े स्वतंत्र गवाहों के बयान लेखबद्ध करने का फैसला लिया। इसके बाद पुलिस अधिकारियों के बयान दर्ज होंगे। सुनवाई में उपस्थित गवाहों के निवेदन पर उन्हें 31 अक्टूबर तक शपथ पत्र जमा करने का समय दिया गया है। उन्हें शपथ पत्र आयोग के जगदलपुर स्थित मुख्यालय में पेश करने होंगे।

अगली सुनवाई रायपुर में 9 नवंबर को होगी। सुनवाई में जांच अधिकारी देवांश सिंह राठौर और गवाह नंदलाल मुडामी, राकेश नाग, मनीष भट्टाचार्य, श्रवण कदाति, धन्नुराम, अजय सिन्हा, शिलादित्य सिंह, संजय पोताम और विजय यादव उपस्थित हुए। आयोग अध्यक्ष ने अनुपस्थित गवाह प्रवीण सिंह को दोबारा सम्मन जारी करने को कहा। इसी साल 9 अप्रैल को दंतेवाड़ा के तत्कालीन विधायक भीमा मंडावी के काफिले पर श्यामगिरी मार्ग में नक्सलियों द्वारा किए गए बारूदी सुरंग विस्फोट से उनकी और चार सुरक्षाकर्मियों की मृत्यु हो गई थी।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना