पुतिन ने कहा-संविधान बदलेंगे प्रधानमंत्री मेदवेदेव का इस्तीफा

News - रूस में राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने बुधवार को राष्ट्र के नाम संबोधन के दौरान संविधान में बदलाव का प्रस्ताव...

Jan 16, 2020, 07:15 AM IST
रूस में राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने बुधवार को राष्ट्र के नाम संबोधन के दौरान संविधान में बदलाव का प्रस्ताव रखा। थोड़ी देर बाद प्रधानमंत्री दिमित्रि मेदवेदेव और उनकी पूरी कैबिनेट ने इस्तीफा दे दिया। पुतिन ने नए प्रधानमंत्री के तौर पर केंद्रीय कर सेवा के प्रमुख मिखाइल मिशुस्तीन का नाम आगे बढ़ाया है। संसद की मंजूरी के बाद मिशुस्तीन प्रधानमंत्री बनेंगे। रूस का मौजूदा संविधान दिसंबर 1993 में लागू हुआ था। संविधान में बदलाव के प्रस्ताव को मंजूरी के लिए देशभर में जनमत संग्रह होगा। रूस में राष्ट्रपति का कार्यकाल 6 साल का है। एक व्यक्ति लगातार तीसरी बार देश का राष्ट्रपति नहीं बन सकता। पुतिन 2012 और 2018 में राष्ट्रपति बन चुके हैं। उनका मौजूदा कार्यकाल 2024 में पूरा होगा।

माना जा रहा है कि संविधान बदलने के प्रस्ताव में राष्ट्रपति के कार्यकाल की संख्या की सीमा में बदलाव हो सकता है। पुतिन ने 2000 और फिर 2004 का भी राष्ट्रपति चुनाव जीता था। तब भी वह नियमों के कारण 2008 का राष्ट्रपति चुनाव नहीं लड़ सके थे। 2008 में मेदवेदेव ने राष्ट्रपति चुनाव जीता था। तब उन्होंने पुतिन को प्रधानमंत्री नियुक्त किया था। सितंबर 2011 में भी संविधान में संशोधन के बाद राष्ट्रपति का कार्यकाल 4 साल से बढ़ाकर 6 साल किया गया था।

रूस में राष्ट्रपति का कार्यकाल बढ़ाने की कवायद

दैनिक भास्कर से विशेष अनुबंध के तहत

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना