अत्याचार के खिलाफ फूटा महिलाओं का गुस्सा बोलीं- और कितनी निर्भया, अब बर्दाश्त नहीं

News - कम्युनिटी रिपोर्टर | रायपुर हैदराबाद में डॉक्टर से सामूहिक दुष्कर्म, फिर जलाकर हत्या कर देने की घटना का पूरे देश...

Dec 04, 2019, 08:37 AM IST
कम्युनिटी रिपोर्टर | रायपुर

हैदराबाद में डॉक्टर से सामूहिक दुष्कर्म, फिर जलाकर हत्या कर देने की घटना का पूरे देश में विरोध हो रहा है। राजधानी में भी लगातार 4 दिन से सामाजिक संगठन सड़कों पर उतरकर इस घटना का विरोध कर रहे हैं। साथ ही ऐसी घटनाओं को अंजाम देने वाले आरोपियों को सीधे फांसी की सजा देने की मांग भी उठ रही है। मंगलवार को वीमेन आर ह्यूमन संगठन की महिला सदस्यों ने मरीन ड्राइव तक कैंडल मार्च निकाला। यहां डॉ. प्रियंका को श्रद्धांजलि भी दी। संगठन की मनप्रीत बग्गा और जिया गोस्वामी ने कहा कि देश निर्भया से रोजा और फिर प्रियंका तक सामूहिक दुष्कर्म और बलात्कार के मामले बढ़ते जा रहे हैं। खुद पर होने वाले अत्याचारों को महिलाएं और कब तक बर्दाश्त करेंगी। महिला अत्याचार के खिलाफ सरकारों को सख्त से सख्त कानून बनाना चाहिए। हम राज्यपाल अनुसुइया उइके से मुलाकात कर 7 सूत्री मांगें रखेंगी जिसमें स्कूलों में सभी को जेंडर शिक्षा दिलाना, सरकार द्वारा लड़कियों को सेल्फ प्रोटेक्शन की ट्रेनिंग देना, महिलाओं से होने वाले अपराधों के लिए देशभर में विशेष कोर्ट बनाना, शहर के कोने-कोने में सुरक्षा के लिए पैनिक बटन, महिलाओं को ऑनलाइन एफआईआर का अधिकार, बलात्कार को लेकर जिला स्तर में एसपी और कलेक्टर की जिम्मेदारी तय करना और सामाजिक स्तर पर अपराधियों की पहचान कर उनका सामाजिक बहिष्कार करना शामिल है। इस दौरान आकृति सिंह, प्रियंका शुक्ला, पूनम आदि मौजूद रहीं।

महिलाएं आत्मरक्षा को लेकर सजग हों: योगिता

इधर, हैदराबाद और छत्तीसगढ़ की दो अलग-अलग शहरों में हुई गैंगरेप की घटनाओं को लेकर सेजबहार में भी महिलाओं का गुस्सा फूटा। भोर एक सामाजिक संस्था द्वारा आयोजित परिचर्चा में महिला थाना प्रभारी योगिता खापर्डे ने कहा कि महिलाओं को अपनी आत्मरक्षा के प्रति सजग रहना होगा। संस्था की अध्यक्ष साधना स्वर्णबेर, पुष्पा दिवाकर जाह्नवी, प्रियंका, लता, गायत्री अादि थे।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना