खाने कमाने गए मजदूर अभी भी लौट रहे गांवों में, इधर फल व सब्जी के दाम बढ़े

Rajnandgaon News - महाराष्ट्र से आने वाले लोगों का सिलसिला रुक नहीं रहा है। प्रतिदिन ब्लॉक के विभिन्न ग्रामों में 50 से 100 की संख्या...

Mar 27, 2020, 06:35 AM IST
Ambagarhchouki News - chhattisgarh news workers who went to earn food in the villages still returning prices of fruits and vegetables increased

महाराष्ट्र से आने वाले लोगों का सिलसिला रुक नहीं रहा है। प्रतिदिन ब्लॉक के विभिन्न ग्रामों में 50 से 100 की संख्या में लोग अपने-अपने घरों को वापस लौट रहे हैं। पड़ोसी राज्य से वापस अपने इलाके व गांव में आ रहे हैं यह लोग होली पर्व के बाद या फिर दो तीन माह पहले ही खाने कमाने के लिए गए हुए थे। दीगर राज्यों से वापस आ रहे लोगों पर प्रशासन पूरी तरह सतर्कता नहीं बरत रही है। एेसी स्थिति में क्षेत्र में कोरोना वायरस के संक्रमण से इंकार नहीं किया जा सकता है।

ब्लाॅक मुख्यालय के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में प्रतिदिन महाराष्ट्र से आने वाले मरीजों की संख्या 50-100 के करीब पहुंच गई है। बुधवार को तो इन मरीजों की संख्या 111 तक पहुंच गई थी। आज भी आंकड़ा 100 के लगभग पहुंच गया था। पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के संक्रमण के रोगियों की संख्या सबसे अधिक होने के बाद इस बात का ध्यान रखा जाना बेहद जरूरी है की पड़ोसी राज्य से आने वाले लोगों पर विशेष नजर रखी जाए व सावधानी बरतें।

धानापायली सेम्हरबांधा में ज्यादा लोग महाराष्ट्र से लौटे

धानापायली सेम्हरबांधा के सरपंच राजू परतेती ने बताया कि पिछले तीन चार दिन में उनके गांव एवं पंचायत में खाने कमाने गए मजदूरो की वापसी की संख्या 25 से अधिक है। सरपंच परतेती ने बताया कि इन मजदूरों को गांव लौटने के बाद स्वास्थ्य केन्द्र तक पहुंचाया गया था। लेकिन कुछ मजदूर घर वापसी के बाद फिर काम के लिए महाराष्ट्र चले गए थे और वे आज फिर वापस लौटे हैं। इन्हें दोबारा स्वास्थ्य केन्द्र लाए।

शासन प्रशासन की मुस्तैदी से, टीम बनाकर निगरानी

रविवार से जनता कर्फ्यू से शुरू हुए लाकडाउन को प्रशासन एवं पुलिस की मुस्तैदी से सफलता मिल रही है। एसडीएम सी पी बघेल के मार्गदर्शन एवं अगुवाई में तहसीलदार मधु हर्ष एवं नायब तहसीलदार परमेश्वर मंडावी व अंबर गुप्ता की टीम एवं एसडीओपी घनश्याम कामडे के नेतृत्व में टीआई केपी राठौर तथा एएसआई श्याम ठावरे, रामकुमार ठाकुर, जंगसाय किरंगे की अलग अलग टीम निगरानी रखे हुए है।

फल व सब्जी के भाव दोगुना, किराना सामान भी महंगा

रविवार को जनता कर्फ्यू के साथ शुरू हुए लाकडाउन का आज पांचवा दिन है। इन पांच दिनों में खाने पीने के सामानों में बेहताशा वृद्धि हो गई है। फल सब्जी के भाव रविवार से पहले की स्थिति में तुलना करें तो दोगुना हो गया है। रविवार से पहले 100 रुपए किलो बिकने वाला सेब सीधे दोगुना 200 रुपए में बेचा जा रहा है। इसी तरह केला, संतरा एवं अन्य फल भी मनमाने कीमत में बेची जा रही है। हरी सब्जी भाजी का भाव भी रविवार से पहले की तुलना में दोगुना हो गया है। जानकारी मिली है की किराना सामानों में दाल, चावल, आलू प्याज एवं अन्य किराना सामग्रियों के भाव में भी काफी बढ़ोतरी हो गई है। इससे लोगों की परेशानी बढ़ गई है।

गांवों में बाकायदा चेतावनी वाले बैनर भी लगाए गए हैं

कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने तथा वनांचल में बाहरी व्यक्तियों को गांवों में आने-जाने से रोकने के लिए ग्रामीण गांव के रास्तों को बांस, पत्थर, टायर एवं पेड़ों की टहनियां डालकर बंद कर रहे है। चौकी, मोहला एवं मानपुर ब्लॉक के अधिकांश गांवों को बंद किए जाने की सूचना मिल रही है। ग्रामीण गांवों के रास्तों को बंद कर बैनर के माध्यम से 14 अप्रैल तक बाहरी व्यक्तियों को गांवों में प्रवेश नहीं करने की चेतावनी वाले बैनर टांग रखे है। ब्लाक के कौड़ीकसा, देवरसुर मोहला ब्लाक के हर्राटोला, मानपुर ब्लाक के कहगांव, आलकन्हार में ग्रामीणों ने गांव के रास्तों को बंद कर बाहरी व्यक्तियों को गांव में प्रवेश न करने की चेतावनी वाला बैनर लगा रखा है। इधर अभी भी गांवों ही नहीं ब्लाॅक मुख्यालय में सोशल डिस्टेंस का पालन नहीं किया जा रहा है। ब्लाॅक के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भी इस मामले में लापरवाही बरती जा रही है।


इधर ऐसी सुरक्षा: क्षेत्र के कुछ गांवों में ग्रामीणों ने गांव की सीमा को बंद कर दिया

अंबागढ़ चौकी.पेड़ काट कर गांव की सीमाओं को बंद कर दिया गया है।

X
Ambagarhchouki News - chhattisgarh news workers who went to earn food in the villages still returning prices of fruits and vegetables increased

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना