Hindi News »Sports »Other Sports »Wrestling» Commonwealth Games Day 8 In Gold Coast News And Updates

सुशील ने द. अफ्रीका के रेसलर को 1 मिनट 20 सेकंड में हराया, लगातार तीसरे कॉमनवेल्थ में जीता गोल्ड

गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में इस बार 12 रेसलर शामिल हुए हैं। गुरुवार को चार कैटेगरी में मैच हुए।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Apr 13, 2018, 06:41 AM IST

  • सुशील ने द. अफ्रीका के रेसलर को 1 मिनट 20 सेकंड में हराया, लगातार तीसरे कॉमनवेल्थ में जीता गोल्ड, sports news in hindi, sports news
    +5और स्लाइड देखें

    • 2014 ग्लासगो कॉमनवेल्थ में 13 रेसलर ने हिस्सा लिया था। सभी ने मेडल जीते थे।
    • रेसलिंग में भारत को पांच गोल्ड, छह सिल्वर और दो ब्रॉन्ज मेडल मिले थे।

    गोल्ड कोस्ट.कॉमनवेल्थ गेम्स में गुरुवार को रेसलर सुशील कुमार ने 74 किग्रा फ्रीस्टाइल और राहुल अवारे ने 57 किग्रा फ्रीस्टाइल कैटेगरी में गोल्ड, जबकि बबीता कुमारी ने 53 किग्रा फ्रीस्टाइल (नार्डिक) में सिल्वर जीता। 76 किग्रा फ्रीस्टाइल कैटेगरी में रेसलर किरण भी ब्रॉन्ज जीतने में सफल रहीं। सुशील कुमार ने महज 1 मिनट 20 सेकंड में फाइनल मुकाबला जीत लिया। उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के जोहानस बोथा के खिलाफ 80 सेकंड में 10 अंक हासिल कर लिए। इसके बाद टेक्निकली सुपरवीजनिली ग्राउंड पर उन्हें विजेता घोषित कर दिया गया। भारत इस कॉमनवेल्थ गेम्स में अब तक 31 मेडल (14 गोल्ड, 7 सिल्वर और 10 ब्रॉन्ज) जीत चुका है। मेडल टैली में वह तीसरे स्थान पर है।

    1 ) मैच: 74 किग्रा फ्रीस्टाइल फाइनल, सुशील कुमार vs जोहानस बोथा

    रिजल्ट: सुशील ने जोहानस बोथा को हराकर गोल्ड जीता। बोथा को सिल्वर मिला। कनाडा के जेवन बालफोर और वेल्स के कुर्टिस डॉज को ब्रॉन्ज मिला।

    - सुशील ने गोल्ड कोस्ट में स्वर्ण पदक जीतने के साथ ही कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड की हैट्रिक भी लगाई है। इससे पहले उन्होंने 2014 ग्लासगो कॉमनवेल्थ गेम्स में 74 किग्रा फ्रीस्टाइल में गोल्ड जीता था। वहीं, 2010 दिल्ली कॉमनवेल्थ गेम्स में भी उन्होंने 66 किग्रा फ्रीस्टाइल में गोल्ड जीता था।

    ओलिंपिक में जीत चुके हैं सिल्वर
    - सुशील ने 2012 लंदन ओलिंपिक में 66 किग्रा कैटेगरी में सिल्वर जीता।
    - वह 2008 बीजिंग ओलिंपिक में ब्रॉन्ज मेडल भी जीत चुके हैं।
    - 2010 मॉस्को वर्ल्ड चैम्पियनशिप में 66 किग्रा कैटेगरी में गोल्ड जीता था।
    - वह 2003, 2005, 2007 और 2009 में हुई कॉमनवेल्थ चैम्पियनशिप में भी गोल्ड जीत चुके हैं।

    2) मैच: 57 किग्रा फ्रीस्टाइल फाइनल, राहुल अवारे vs स्टीवन ताकाहाशी

    रिजल्ट:राहुल ने स्टीवन ताकाहाशी को 15-7 से हराकर गोल्ड जीता। स्टीवन को सिल्वर मिला। पाकिस्तान के मोहम्मद बिलाल और नाइजीरिया के ई वेलसन ने ब्रॉन्ज जीता।
    - राहुल का कॉमनवेल्थ गेम्स में यह पहला मेडल है। उन्होंने 2011 मेलबर्न कॉमनवेल्थ चैम्पियनशिप में 55 किग्रा फ्रीस्टाइल कैटेगरी में गोल्ड जीता था।
    - वह 2008 पुणे कॉमनवेल्थ यूथ गेम्स में गोल्ड मेडल जीत चुके हैं।

    3) मैच: 53 किग्रा फ्रीस्टाइल (नार्डिक सिस्टम) फाइनल,बबीता कुमारी vs डायना वीकर

    - रिजल्ट: डायना ने बबीता को 5-2 से हराकर गोल्ड जीता। बबीता को सिल्वर और नाइजीरिया की सैम्युल बोस को ब्रॉन्ज मिला।
    - बबीता का कॉमनवेल्थ गेम्स में यह तीसरा मेडल है। उन्होंने 2010 दिल्ली कॉमनवेल्थ गेम्स में 51 किग्रा फ्रीस्टाइल कैटेगरी में सिल्वर जीता था।
    - 2014 ग्लासगो कॉमनवेल्थ गेम्स में 56 किग्रा फ्रीस्टाइल कैटेगरी में गोल्ड अपने नाम किया था। इसी तरह 2011 मेलबर्न कॉमनवेल्थ चैम्पियनशिप की 48 किग्रा फ्रीस्टाइल में स्वर्ण पदक जीती थीं।

    4) मैच: 76 किग्रा फ्रीस्टाइल सेमीफाइनल, किरण vs कातोउसकिया परिधवेन

    रिजल्ट: किरण ने कातोउसकिया को 10-0 से हराकर ब्रॉन्ज जीता। कनाडा की एरिका वीबी ने गोल्ड और ब्लेसिंग ओनियबुकी ने सिल्वर जीता।

    ग्लासगो कॉमनवेल्थ में भारत ने जीते थे 13 मेडल
    - 2014 ग्लासगो कॉमनवेल्थ में 13 रेसलर ने हिस्सा लिया था। भारत ने पांच गोल्ड, छह सिल्वर और दो ब्रॉन्ज मेडल जीते थे।
    - गोल्ड मेडल जीते थे: योगेश्वर दत्त, सुशील कुमार, अमित कुमार, विनेश फोगाट और बबीताकुमारी ने।
    - सिल्वर मेडल जीते थे: बजरंग कुमार, सत्यव्रत कादियान, राजीव तोमर, ललिता ललिता, साक्षी मलिक और गीतिका जाखड़ ने।
    - ब्रॉन्ज मेडल जीते थे: पवन कुमार और नवजोत कौर ने।

    ये 12 रेसलर शामिल हुए हैं कॉमनवेल्थ गेम्स में:

    1) राहुल अवारे (57 किग्रा फ्रीस्टाइल)
    2) बजरंग (65 किग्रा फ्रीस्टाइल)
    3) सुशील कुमार (74 किग्रा फ्रीस्टाइल)
    4) सोमवीर (86 किग्रा फ्रीस्टाइल)
    5) मौसम खत्री (97 किग्रा फ्रीस्टाइल)
    6) सुमित (125 किग्रा फ्रीस्टाइल)
    7) विनेश फोगाट (50 किग्रा फ्रीस्टाइल)
    8) बबीताकुमारी फोगाट (53 किग्रा फ्रीस्टाइल नॉर्डिक)

    9) पूजा ढांढा (57 किग्रा फ्रीस्टाइल)
    10) साक्षी मलिक (62 किग्रा फ्रीस्टाइल)
    11) दिव्या काकरन (68 किग्रा फ्रीस्टाइल)
    12) किरन (76 किग्रा फ्रीस्टाइल)

    पदक तालिका: टॉप 5 देश

    देशगोल्डसिल्वरब्रॉन्जकुल
    ऑस्ट्रेलिया634647156
    इंग्लैंड28322787
    भारत1471031
    कनाडा12291960
    दक्षिण अफ्रीका11912

    32

    * यह तालिका भारतीय समयानुसार शुक्रवार सुबह 6:40 बजे तक अपडेट है।

  • सुशील ने द. अफ्रीका के रेसलर को 1 मिनट 20 सेकंड में हराया, लगातार तीसरे कॉमनवेल्थ में जीता गोल्ड, sports news in hindi, sports news
    +5और स्लाइड देखें
    स्वर्ण पदक जीतने के साथ ही सुशील कुमार ने कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड की हैट्रिक भी बना ली है।
  • सुशील ने द. अफ्रीका के रेसलर को 1 मिनट 20 सेकंड में हराया, लगातार तीसरे कॉमनवेल्थ में जीता गोल्ड, sports news in hindi, sports news
    +5और स्लाइड देखें
    सुशील ने 2014 ग्लासगो और 2010 दिल्ली कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड जीता था।
  • सुशील ने द. अफ्रीका के रेसलर को 1 मिनट 20 सेकंड में हराया, लगातार तीसरे कॉमनवेल्थ में जीता गोल्ड, sports news in hindi, sports news
    +5और स्लाइड देखें
    फाइनल मैच में कनाडा की डायना वीकर ने बबिता कुमारी को 5-2 से शिकस्त दी।
  • सुशील ने द. अफ्रीका के रेसलर को 1 मिनट 20 सेकंड में हराया, लगातार तीसरे कॉमनवेल्थ में जीता गोल्ड, sports news in hindi, sports news
    +5और स्लाइड देखें
    सुशील ने दूसरे मुकाबले में पाकिस्तान के असद बट को 10-0 से पटखनी दी।
  • सुशील ने द. अफ्रीका के रेसलर को 1 मिनट 20 सेकंड में हराया, लगातार तीसरे कॉमनवेल्थ में जीता गोल्ड, sports news in hindi, sports news
    +5और स्लाइड देखें
    सुशील ने पहले मैच में कनाडा के जेवोन बालफोर को 11-0 से हराया।
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Commonwealth Games Day 8 In Gold Coast News And Updates
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Wrestling

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×