Hindi News »Lifestyle »Tech» Continental Has Banned Whatsapp And Snapchat Because Of Data Protection

इस कंपनी के कर्मचारी व्हाट्सऐप और स्नैपचैट यूज नहीं कर पाएंगे, डेटा प्रोटेक्शन को बताया वजह

कंपनी का कहना है कि व्हाट्सऐप जैसी सोशल मीडिया कंपनियां यूजर्स के डेटा को एक्सेस करती हैं।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Jun 05, 2018, 06:36 PM IST

इस कंपनी के कर्मचारी व्हाट्सऐप और स्नैपचैट यूज नहीं कर पाएंगे, डेटा प्रोटेक्शन को बताया वजह

गैजेट डेस्क। जर्मन कार पार्ट्स सप्लायर कंपनी कॉन्टिनेंटल ने अपने कर्मचारियों को ग्लोबल कंपनी नेटवर्क पर व्हाट्सऐप और स्नैपचैट जैसी सोशल मीडिया ऐप्स यूज करने से मना कर दिया है। इसके साथ ही कंपनी ने व्हाट्सऐप और स्नैपचैट को वर्क फोन में बैन भी कर दिया है। इसके पीछे कंपनी ने डेटा प्रोटेक्शन का हवाला दिया है। कंपनी का कहना है कि ये सोशल मीडिया ऐप्स यूजर्स के डेटा को एक्सेस करती हैं।

कंपनी ने कहा- डेटा सिक्योरिटी के लिए कोई

- कॉन्टिनेंटल कंपनी ने एक बयान जारी कर व्हाट्सऐप और स्नैपचैट जैसी सोशल मीडिया ऐप्स को बैन करने की जानकारी दी है। कंपनी ने अपने बयान में कहा कि 'डेटा प्रोटेक्शन को लेकर इन कंपनियों के पास सर्विस की कमी है। ये यूजर्स का पर्सनल और कॉन्फिडेंशियल डेटा जैसे कॉन्टेक्ट लिस्ट एक्सेस करती हैं। ऐसे मामलों में कॉन्टेक्ट लिस्ट को प्रतिबंधित नहीं किया जा सकता।'
- बयान में आगे कहा गया है 'डेटा प्रोटेक्शन को लेकर कंपनी अपने कर्मचारियों और बिजनेस पार्टनर की रक्षा करना चाहती है।'
- कंपनी के सीईओ डॉक्टर एल्मर डेजेनहार्ट ने कहा कि 'हमें लगता है कि डेटा प्रोटेक्शन कानूनों का पालन करने की जिम्मेदारी सिर्फ यूजर्स की ही नहीं है। इसीलिए हम सिक्योरिटी के लिए दूसरे विकल्प तलाश रहे हैं।'

36 हजार से ज्यादा कर्मचारियों पर होगा असर

- कॉन्टिनेंटल कार पार्ट्स के मामले में दुनिया की सबसे बड़ी कंपनियों में से एक हैं, जिसके दुनियाभर में 2 लाख 40 हजार से ज्यादा कर्मचारी हैं।
- हालांकि कंपनी के इस फैसले से 36 हजार से ज्यादा कर्मचारियों पर असर होगा।

डेटा प्रोटेक्शन को लेकर उठे हैं सवाल

- कुछ महीनों पहले ब्रिटिश फर्म कैंब्रिज एनालिटिका पर आरोप लगे थे कि उसने 2016 में अमेरिकी राष्ट्रपति चुनावों के 5 करोड़ से ज्यादा फेसबुक यूजर्स के डेटा का इस्तेमाल किया था।
- इस बात का खुलासा होने के बाद फेसबुक पर तो सवाल खड़े हुए ही, साथ ही बाकी सोशल मीडिया कंपनियों पर भी डेटा प्रोटेक्शन को लेकर सवाल खड़े हो गए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: is kampany ke karmChari vhaatsaip aur snaipchait yuj nahi kar paaengae, detaa protekshn ko btaayaa wajah
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
Reader comments

More From Tech

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×