--Advertisement--

टेस्ट सीरीज जीतने के लिए डे-नाईट टेस्ट नहीं खेलना चाहती भारतीय टीम: क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया

भारत ने ऑस्ट्रेलिया में अबतक 11 टेस्ट सीरीज खेली है। जिनमें 8 में हार का सामना करना पड़ा। 3 सीरीज ड्रॉ पर छूटा।

Dainik Bhaskar

May 02, 2018, 08:05 PM IST
2014-15 में भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया में चार मैचों की सीरीज 2-0 से हार गई थी।-फाइल फोटो 2014-15 में भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया में चार मैचों की सीरीज 2-0 से हार गई थी।-फाइल फोटो

  • क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने कहा कि भारत को टेस्ट क्रिकेट के भविष्य की चिंता नहीं है।
  • ऑस्ट्रेलिया ने अब तक दो डे-नाइट टेस्ट मैच खेले हैं और दोनों में जीत हासिल की।

मेलबर्न. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के सीईओ जेम्स सदरलैंड ने भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) पर मनमानी करने के आरोप लगाए हैं। सदरलैंड का कहना है कि भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया में हर हाल में सीरीज जीतना चाहती है और इसी लिए वे हमारे खिलाफ डे-नाइट टेस्ट नहीं खेलना चाहते। बता दें कि भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच इसी साल दिसंबर में बॉर्डर-गावस्कर टेस्ट सीरीज खेली जानी है। इस सीरीज का पहला मैच 6 से 10 दिसंबर के बीच एडिलेड में खेला जाना है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया सीरीज के कुछ टेस्ट डे-नाइट रखना चाहता है। हालांकि, प्रशासकों की समिति के अध्यक्ष विनोद राय ऐसे किसी भी मैच को लेकर असहमति जता चुके हैं।

खेल के भविष्य पर नहीं सीरीज जीतने पर है भारत का ध्यान
- एसईएन रेडियो को दिए इंटरव्यू में सदरलैंड ने कहा कि डे-नाइट टेस्ट आने वाले समय में क्रिकेट का भविष्य होगा, लेकिन भारत के पास इसको लेकर अभी कोई विचार नहीं है। भारत का ध्यान अभी टेस्ट क्रिकेट के भविष्य पर ना होकर सीरीज जीतने पर है।
- उन्होंने कहा, “साफ शब्दों में कहें तो मुझे लगता है कि वो यहां आकर सिर्फ हमें हराना चाहते हैं। ऑस्ट्रेलिया ने अब तक घर पर दो डे-नाइट टेस्ट खेले हैं और दोनों में ही जीत हासिल की है। इसलिए शायद बीसीसीआई को लगता है कि इससे हमें फायदा मिलेगा।
- सदरलैंड ने कहा कि ये मेजबान देश का फैसला होना चाहिए कि वे मैच किस तरह से और किस टाइमिंग में रखना चाहेंगे। साथ ही खेल शुरू करने के टाइम को लेकर भी बोर्ड की मर्जी मानी जानी चाहिए।

डे-नाइट टेस्ट के लिए तैयार नहीं बीसीसीआई
- गौरतलब है कि कोलकाता में पिछले महीने आईसीसी की कार्यकारी परिषद की बैठक हुई थी। इसमें बीसीसीआई ने ऑस्ट्रेलिया में टीम इंडिया के डे-नाइट टेस्ट खेलने की संभावना से इनकार किया था।
- सदरलैंड के बयान पर विनोद राय ने कहा कि बीसीसीआई डे-नाइट टेस्ट को लेकर अपना रुख नहीं बदलेगी। उन्होंने कहा कि डे-नाइट टेस्ट भारत में फर्स्ट क्लास स्तर पर खेले जाते रहेंगे। दिलीप ट्रॉफी भी इस फॉर्मेट में ही खेली जाएगी।
- राय के मुताबिक, भारत के डे-नाइट टेस्ट ना खेलने की संभावना का ये मतलब नहीं कि दोनों देशों के बोर्ड आपस में टकराव की राह पर हैं। उन्होंने कहा कि खेलने की कंडीशन्स पर दोनों देशों को साथ बैठकर फैसला करना होता है। हालांकि, उन्होंने जोर देते हुए कहा कि भारत अभी किसी भी डे-नाइट टेस्ट में हिस्सा नहीं लेगा।

आम टेस्ट और डे-नाइट टेस्ट में क्या फर्क है?

- डे-नाइट वनडे की तरह ही डे-नाइट टेस्ट दोपहर को शुरू होता है और रात तक खेला जाता है। हालांकि, इसमें लाल या सफेद गेंद की जगह कुकाबुरा की गुलाबी गेंद का इस्तेमाल किया जाता है। बता दें कि ऑस्ट्रेलिया ने अब तक तीन डे-नाइट टेस्ट मैच खेले हैं। ऑस्ट्रेलिया ने इतिहास के पहले डे-नाइट टेस्ट में न्यूजीलैंड के खिलाफ जीत हासिल की थी, वहीं दूसरे मैच में साउथ अफ्रीका और तीसरे मैच में पाकिस्तान को हराया था।

आस्ट्रेलिया में अब तक टेस्ट सीरीज नहीं जीता भारत
- भारत ने ऑस्ट्रेलिया में अबतक 11 टेस्ट सीरीज खेली है। जिनमें 8 में हार का सामना करना पड़ा। 3 सीरीज ड्रा (1980-11, 1985-86 और 2003-04) रही है।

जेम्स सदरलैंड। - फाइल फोटो जेम्स सदरलैंड। - फाइल फोटो
X
2014-15 में भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया में चार मैचों की सीरीज 2-0 से हार गई थी।-फाइल फोटो2014-15 में भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया में चार मैचों की सीरीज 2-0 से हार गई थी।-फाइल फोटो
जेम्स सदरलैंड। - फाइल फोटोजेम्स सदरलैंड। - फाइल फोटो
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..