• Hindi News
  • Bihar
  • Samstipur
  • Samastipur News criminal incidents not reported in four days 152 firs were registered across the district four days before lock down

चार दिनों में नहीं हुई आपराधिक घटनाएं, लॉक डाउन से चार दिन पूर्व जिले भर में दर्ज हुई थी 152 एफआईआर

Samstipur News - मौत कटू सत्य है बावजूद कोई मरना नहीं चाहता, चाहे वह आम हो अपराधी अथवा खास। लॉक डाउन का आज चौथा दिन है। गत चार दिनों...

Mar 27, 2020, 08:17 AM IST

मौत कटू सत्य है बावजूद कोई मरना नहीं चाहता, चाहे वह आम हो अपराधी अथवा खास। लॉक डाउन का आज चौथा दिन है। गत चार दिनों में जिले के किसी थाना क्षेत्रों में आपराधिक घटनाएं नहीं हुई। सड़क हादसा भी शून्य हैं। चारो ओर अमन चैन और शांति शांति है। 25 थानाें वाले इस जिले में राेजाना औसतन 40-50 मामले में विभिन्न थानों में दर्ज की जाती है। लेकिन चार दिनों में अबतक एक भी आपराधिक मामले की प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई। या कहें कि एक भी पीड़ित शिकायत लेकर थाना नहीं पहुंचा। सिर्फ नगर थाने में लॉक डाउन तोड़ने वाले पान व शृीगार दुकानदार पर प्राथमिकी दर्ज की गई है। वहीं रोसड़ा पुलिस ने भोज आयोजन को लेकर तथा वारिसनगर पुलिस ने नलजल योजना में गबन का मामला दर्ज किया है। इसके अलावा किसी भी थानों में केस की रिपोर्टिंग नहीं है। जबकि जिले में आये दिन लूट, हत्या व छिनतई की घटनाएं आम है। एसपी विकास बर्मन ने बताया कि लॉक डाउन के दौरान जिले भर के पुलिसकर्मी राउंड दी क्लॉक कार्य कर रहे हैं। जिससे अपराधियों की आवाजाही पर पूर्ण रोक लगी हुई है। अपराध नहीं होने अच्छी बात है। दूसरी ओर चर्चा है कि बदमाश भी तो एक निशान ही है उनके अंदर भी मौत का डर सता रहा है जिससे आपराधिक घटनाएं में कमी आयी है। इन दिनों बदमाशों द्वारा ताबड़तोड़ आपराधिक घटनाओं को अंजाम दिए जाने के कारण पुलिस की परेशानी बढ़ी हुई थी। लूट व हत्या की कई घटनाएं अबभी पुलिस के लिए अनबूझी पहेली बनी हुई है।

नगर, वारिसनगर व रोसड़ा थाने में दर्ज हुई है एक-एक एफआईआर

चार दिनों के दौरान नगर थाने में आपराधिक घटनाएं नहीं हुई। पुलिस ने लॉक डाउन तोड़ने के आरोप में नगर पुलिस ने बहादुरपुर के पान दुकानदार मनोहर पासवान व शृीगार दुकानदार संदीप कुमार पर सरकारी आदेश का उलंघन करने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज की गई है। वारिसनगर पुलिस ने नलजल योजना में गबन के आरोप में प्राथमिकी दर्ज की है। जबकि रोसड़ा पुलिस ने भोज आयोजन को लेकर मामला दर्ज किया है।

जिल में इतने हैं थाने

नगर थाना, मुफस्सिल थाना, एससीएसटी थाना, कल्याणपुर थाना, चकमहेसी थाना, वारसिनगर थाना, खानपुर थान, पूसा थाना, ताजपुर थाना, सरायरंजन थाना, मुसरीघरारी थाना, बंगरा थाना, रोसड़ा, विभूतिपुर, सिंघिया, हथौड़ी, बिथान, दलसिंहसयराय, उजियारपुर, विद्यापतिनगर, घटहो, अंगारघाट, पटोरी, मोहिउद्दीननगर थाना के अलावा वैनी, शिवाजीनगर, मथुरापुर व हलई ओपी है।

चार दिनों में सड़क हादसों में भी नहीं गई लोगों की जान

चार दिनों में जिले में सड़क हादसों में भी लोगों की जान नहीं गई। जबकि जिले में एक महीने के दौरान सड़क हादसों में 40 से अधिक लोगों की मौत हो जाती है। 20 मार्च तक जिले के विभिन्न थाना क्षेत्रों में 28 लोगों की मौत सड़क हादसों में हो चुकी थी। जिले में मारपीट की घटनाएं भी शून्य है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना