विज्ञापन

नोटबंदी के बाद से जनता के पास दोगुनी हुई नकदी, 18.5 लाख करोड़ रुपए के अधिकतम स्तर पर पहुंची

Dainik Bhaskar

Jun 11, 2018, 05:31 AM IST

25 मई 2018 की स्थिति के मुताबिक लोगों के पास 18.5 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा के मूल्य के नोट हैं।

30 जून 2017 तक लोगों ने 15.28 लाख करोड़ 30 जून 2017 तक लोगों ने 15.28 लाख करोड़
  • comment

  • 1 जून 2018 को देश में कुल 19.3 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा नकदी चलन में थी
  • 1 साल में लोगों के पास मौजूद नकदी में 31% इजाफा हुआ

नई दिल्ली. देश में इस समय जनता के पास नकदी का स्तर 18.5 लाख करोड़ रुपए से ऊपर पहुंच गया है। यह न सिर्फ अब तक का सबसे ज्यादा है, बल्कि नोटबंदी के बाद की स्थिति के मुकाबले दोगुने से भी ज्यादा है। नोटबंदी के बाद जनता के हाथ में नकदी घटकर 7.8 लाख करोड़ रुपए रह गई थी। रिजर्व बैंक के ताजा आंकड़ों में ये जानकारी सामने आई है। एक जून 2018 की स्थिति के मुताबिक देश में कुल 19.3 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा नकदी चलन में है। रिजर्व बैंक ‘चलन में मुद्रा’ के आंकड़े हर हफ्ते और ‘जनता के पास नकदी’ के आंकड़े हर पखवाड़े जारी करता है।

नोटबंदी के बाद बैंकों में पहुंचे थे 15.28 लाख करोड़ रुपए के नोट

- नोटबंदी के बाद मूल्य के हिसाब से चलन में मौजूद 86% नोट अमान्य हो गए थे। सरकार ने लोगों को पुराने नोट बैंकों में जमा करने के लिए समय दिया था। इससे चलन से बाहर किए गए 500 और 1,000 रुपए के 99% पुराने नोट बैंकिंग सिस्टम में वापस आए थे।

- आरबीआई के मुताबिक कुल 15.44 लाख करोड़ रुपए की अमान्य मुद्रा में से 30 जून 2017 तक लोगों ने 15.28 लाख करोड़ रुपए के नोट बैंकों में जमा करवाए थे। बता दें कि सरकार ने 8 नवंबर 2016 की रात से नोटबंदी की घोषणा की थी।

एक साल पहले के मुकाबले लोगों के पास 31% ज्यादा नोट
आरबीआई के मुताबिक 25 मई 2018 की स्थिति के मुताबिक लोगों के पास 18.5 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा के मूल्य के नोट हैं। यह एक साल पहले की तुलना में ये 31% ज्यादा हैं। जबकि, 9 दिसंबर 2016 के आंकड़े 7.8 लाख करोड़ रुपए से दोगुने से भी ज्यादा है। नोटबंदी से पहले लोगों के पास 5 नवंबर 2016 को 17.9 लाख करोड़ रुपए के नोट थे।

जनता के पास नकदी की स्थिति

महीना राशि (लाख करोड़ रुपए)
मई 2014 13
मई 2016 16.7
नवंबर 2016 17.9
फरवरी 2017 10
सितंबर 2017 15
मई 2018 18.5

X
30 जून 2017 तक लोगों ने 15.28 लाख करोड़ 30 जून 2017 तक लोगों ने 15.28 लाख करोड़
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन