--Advertisement--

सचिन को भरोसा- इंग्लैंड को तगड़ी चुनौती देगा भारत, अपने सबसे तेज गेंदबाजी आक्रमण के साथ उतरेगी टीम इंडिया

इंग्लैंड के खिलाफ 5 टेस्ट सीरीज में सचिन टीम इंडिया का हिस्सा रहे। उन्होंने 1990,1996,2002,2007,2011 में ये सीरीज खेली।

Danik Bhaskar | Jun 25, 2018, 10:50 PM IST
टेस्ट में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड सचिन तेंडुलकर के नाम है। उन्होंने 15,921 रन बनाए हैं। - फाइल टेस्ट में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड सचिन तेंडुलकर के नाम है। उन्होंने 15,921 रन बनाए हैं। - फाइल

  • कपिल देव और मनोज प्रभाकर जैसे तेज गेंदबाजों के साथ भी खेल चुके हैं सचिन तेंडुलकर
  • उनके कॅरियर के अधिकांश हिस्से में जवागल श्रीनाथ-जहीर खान ने भारतीय तेज गेंदबाजी की अगुआई की


नई दिल्ली. सचिन तेंडुलकर का मानना है कि भारत कई साल बाद इंग्लैंड दौरे में अपने सबसे अच्छे तेज गेंदबाजी आक्रमण के साथ उतरेगा। उनके 24 साल के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट कॅरियर के दौरान भारत के पास कभी भी इतना बढ़िया पेस अटैक नहीं रहा। भारत अपने ब्रिटेन दौरे की शुरुआत आयरलैंड के खिलाफ 27 जून से 2 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों के साथ करेगा, लेकिन सभी की नजर एक अगस्त से बर्मिंघम में शुरू हो रही 5 टेस्ट सीरीज पर टिकी है।

हमारे पास 4 तेज गेंदबाजों का अच्छा कम्बीनेशनः सचिन
तेंडुलकर ने कहा, "कई साल में यह भारत का सबसे सम्पूर्ण तेज गेंदबाजी अक्रामण है। मेरे आकलन के अनुसार, यह आक्रमण उत्तम में सर्वोत्तम होगा।" अपने कॅरियर के दौरान 200 टेस्ट खेलने वाले तेंडुलकर ने कहा कि भारत के पास कुछ अच्छे तेज गेंदबाज रहे हैं ,लेकिन इतनी विविधता वाला आक्रमण कभी नहीं रहा। तेंडुलकर ने कहा, "हम अच्छी स्थिति में हैं जहां हमारे पास एक स्विंग गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार, लंबा गेंदबाज इशांत शर्मा, सटीक गेंदबाज जसप्रीत बुमराह और असली मायने में तेज गेंदबाज उमेश यादव है। इतनी सारी विविधता के साथ यह अच्छा कम्बीनेशन है।"

भुवी और हार्दिक के होने से बल्लेबाजी भी होगी मजबूत

यह पूछने पर कि क्या मौजूदा गेंदबाजी आक्रमण उनके समय से अधिक मजबूत है, तेंडुलकर बोले, "मैं उसी संदर्भ में बोल रहा हूं। हमारे पास भुवी और हार्दिक हैं, जो बल्लेबाजी भी करने में सक्षम हैं।" भारत को किस तरह के कम्बीनेशन के साथ मैदान पर उतरना चाहिए के सवाल पर उन्होंने कोई टिप्पणी नहीं की। उन्होंने कहा, "मुझे लगता है कि टीम प्रबंधन को यह देखना चाहिए कि कौन सा बल्लेबाज किस तरह की गेंदबाजी के खिलाफ सहज है। इंग्लैंड के कुछ ऐसे बल्लेबाज हैं, जो स्विंग गेंदबाजी का अच्छी तरह सामना करते हैं। कुछ पिच से मूव होने वाली गेंद से अच्छे से निपट लेते हैं। इन सबका ध्यान रखते हुए टीम का चयन करना चाहिए।"

एक महीने बाद टेस्ट सीरीज शुरू होने का मिलेगा फायदा
भारत का इंग्लैंड दौरा जुलाई में शुरू होगा, लेकिन टेस्ट सीरीज की शुरुआत अगस्त में होगी। इससे भारत को वहां के माहौल में ढलने का वक्त मिल जाएगा। उन्होंने कहा, "यह स्थिति भारत के लिए फायदेमंद साबित होगी।

सचिन तेंडुलकर ने वनडे में सबसे ज्यादा 18.426 रन बनाए हैं। - फाइल सचिन तेंडुलकर ने वनडे में सबसे ज्यादा 18.426 रन बनाए हैं। - फाइल