--Advertisement--

वेटलिफ्टर संजीता चानू डोप टेस्ट में फेल, 2 कॉमनवेल्थ गेम्स में जीत चुकी हैं गोल्ड

Dainik Bhaskar

May 31, 2018, 08:03 PM IST

संजीता ने 2014 ग्लासगो कॉमनवेल्थ गेम्स में 48 किग्रा कैटेगरी में गोल्ड मेडल जीता था।

24 साल की संजीता ने गोल्ड कोस्ट में 3 कोशिशों में  81, 82 और 84 किग्रा वजन उठाते हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में रिकॉर्ड बनाया था। - फाइल 24 साल की संजीता ने गोल्ड कोस्ट में 3 कोशिशों में 81, 82 और 84 किग्रा वजन उठाते हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में रिकॉर्ड बनाया था। - फाइल

  • संजीता ने गोल्ड कोस्ट में कॉमनवेल्थ गेम्स में 53 किग्रा कैटेगरी में स्नैच में सबसे ज्यादा वजन उठाने का रिकॉर्ड बनाया था
  • ग्लासगो कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत की स्वाति सिंह ने 83 किग्रा वजन उठाया था, संजीता ने 84 किग्रा उठाकर रिकॉर्ड तोड़ दिया

नई दिल्ली. कॉमनवेल्थ गेम्स में दो बार गोल्ड मेडल जीतने वालीं वेटलिफ्टर संजीता चानू डोप टेस्ट में फेल हो गईं। इंटरनेशनल वेटलिफ्टिंग फेडरेशन (आईडब्ल्यूएफ) ने गुरुवार को बताया कि संजीता को अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया गया। फेडरेशन ने वेबसाइट पर इस बात की जानकारी दी कि संजीता चानू के टेस्टोस्टोरोन लेवल जांचने के लिए किए गए टेस्ट पॉजिटिव हैं। बता दें कि इसी साल हुए गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में वुमेन्स की 53 किग्रा कैटेगरी में संजीता ने गोल्ड जीता था।

नियमों का उल्लंघन नहीं किया तो फैसला जारी नहीं रहेगा- फेडरेशन

- फेडरेशन की ओर से जारी बयान के अनुसार, आईडब्ल्यूएफ की रिपोर्टें कहती हैं कि संजीता चानून खुमुकचाम के नमूने पॉजिटिव आए हैं। एथलीट को एंटी-डोपिंग नियम के उल्लंघन के संदर्भ में अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया गया है।
- फेडरेशन का कहना है कि किसी भी स्थिति में यदि यह साबित होता है कि एथलीट ने एंटी-डोपिंग नियमों का उल्लंघन नहीं किया है तो संबंधित फैसले को जारी नहीं रखा जाएगा।


कब लिया गया सैंपल, यह नहीं बताया
- आईडब्ल्यूएफ ने इस मामले में ज्यादा जानकारी नहीं दी है। उसने यह नहीं बताया है कि किस तारीख को एथलीट का डोप टेस्ट सैंपल लिया गया था। फेडरेशन ने कहा है कि जब तक मामले की पूरी तरह जांच नहीं हो जाती है, तब तक कोई भी टिप्पणी नहीं की जाएगी।
- संजीता ने पिछले साल नवंबर में अमेरिका के एनाहेयिम में हुई वर्ल्ड चैम्पियनशिप में 53 किग्रा कैटेगरी में हिस्सा लिया था। वहां 177 किग्रा भार उठाकर वे 13वें स्थान पर रहीं थीं।
- गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में संजीता ने 53 किग्रा कैटेगरी में कुल 192 किग्रा का वजन उठाया था। संजीता ने 2014 में ग्लासगो कॉमनवेल्थ गेम्स में 48 किग्रा कैटेगरी में भी गोल्ड मेडल जीता था।

अर्जुन पुरस्कार नहीं मिलने पर हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटा चुकी हैं संजीता
- संजीता को 2017 में अर्जुन पुरस्कार के लिए नहीं चुना गया। इसका विरोध करते हुए उन्होंने दिल्ली हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। उनकी दलील थी कि लगातार दो साल से बेहतरीन प्रदर्शन करने के बावजूद उन्हें इस पुरस्कार के लिए नहीं चुना गया। जबकि, खेल मंत्रालय ने उनसे कमतर परफार्मेंस देने वाले एथलीट्स को इस पुरस्कार के लिए चुन लिया।
- हाई कोर्ट ने उनकी अर्जी खारिज कर दी थी। उनसे पहले 2015 में मुक्केबाज मनोज कुमार भी अर्जुन पुरस्कार न मिलने के विरोध में हाईकोर्ट पहुंच गए थे। अदालत के दखल के बाद ही उन्हें अर्जुन पुरस्कार मिला था।

संजीता ने कॉमनवेल्थ सीनियर (मेन एंड वुमेन) वेटलिफ्टिंग चैम्पियनशिप में 195 किग्रा वजन उठाकर कॉमनवेल्थ गेम्स कोटा हासिल किया था। - फाइल संजीता ने कॉमनवेल्थ सीनियर (मेन एंड वुमेन) वेटलिफ्टिंग चैम्पियनशिप में 195 किग्रा वजन उठाकर कॉमनवेल्थ गेम्स कोटा हासिल किया था। - फाइल
X
24 साल की संजीता ने गोल्ड कोस्ट में 3 कोशिशों में  81, 82 और 84 किग्रा वजन उठाते हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में रिकॉर्ड बनाया था। - फाइल24 साल की संजीता ने गोल्ड कोस्ट में 3 कोशिशों में 81, 82 और 84 किग्रा वजन उठाते हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में रिकॉर्ड बनाया था। - फाइल
संजीता ने कॉमनवेल्थ सीनियर (मेन एंड वुमेन) वेटलिफ्टिंग चैम्पियनशिप में 195 किग्रा वजन उठाकर कॉमनवेल्थ गेम्स कोटा हासिल किया था। - फाइलसंजीता ने कॉमनवेल्थ सीनियर (मेन एंड वुमेन) वेटलिफ्टिंग चैम्पियनशिप में 195 किग्रा वजन उठाकर कॉमनवेल्थ गेम्स कोटा हासिल किया था। - फाइल
Astrology

Recommended

Click to listen..