पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बिहार में दैनिक भास्कर 9.11 लाख पाठकों के साथ दूसरा सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला अखबार बना: हंसा रिसर्च

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

मुंबई/पटना.  बिहार में दैनिक भास्कर दूसरा सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला अखबार बन गया है। वह भी अखबार द्वारा बिहार में सर्कुलेशन बढ़ाने का अभियान शुरू करने के महज छह महीने के भीतर। हंसा रिसर्च ग्रुप ने अपनी हालिया रिपोर्ट में यह जानकारी दी है। हंसा रिसर्च ग्रुप ने बिहार के सभी प्रमुख हिंदी अखबारों के रीडरशिप प्रोफाइल, रीडर एंगेजमेंट और ब्रांड सैटिस्फैक्शन का पता लगाने के लिए सर्वे किया है।

 

 

केंद्र में पाठक और नॉलेज कंटेंट ने दिलाई मजबूती: हंसा की रिपोर्ट के मुताबिक बिहार में भास्कर की सफलता सोच-विचार के बाद तैयार किए गए एडिटोरियल प्लान से संभव हुई है। भास्कर ने केंद्र में पाठक, आइडिया आधारित पत्रकारिता और नॉलेज कंटेंट का तरीका अपनाया है। बिहार और वहां के लोकल मुद्दों को ध्यान में रखकर तैयार एडिटोरियल कैंपेन ने भास्कर की जड़ें मजबूत की।

 

सुनियोजित एडिटोरियल प्लान पर प्रभावी अमल से मिली कामयाबी: दैनिक भास्कर के डायरेक्टर गिरीश अग्रवाल ने कहा कि सर्वे से दैनिक भास्कर की बिहार में मजबूत स्थिति, विस्तार नीतियों की सफलता और प्रोडक्ट की अपील का पता चलता है। हमने सुनियोजित एडिटोरियल प्लान और उसके प्रभावी अमल के दम पर अपनी क्षमताओं का प्रदर्शन किया है। इस मौके पर हम बिहार के सभी पाठकों काे धन्यवाद देते हैं। दैनिक भास्कर अापकी उम्मीदों पर आगे भी खरा उतरेगा।

 

(यह सर्वे बिहार के एक लाख से अधिक आबादी वाले शहरों में कराया गया है। सर्वे में 12 साल से ज्यादा उम्र के पाठकों को शामिल किया गया है)

खबरें और भी हैं...