• Did You Know Deadly Secrets Codes of Plastic Bottles?
--Advertisement--

आपकी प्लास्टिक बोतल कितनी सेफ है, नीचे लिखे कोड से ऐसे करें पता

आप जिस प्लास्टिक की बोतल से बार-बार पानी पीते हैं वो आपके लिए स्लो पॉइजन का काम भी कर सकती है।

Danik Bhaskar | Apr 23, 2018, 12:02 AM IST

यूटिलिटी डेस्क। दुनिया में शायद ही कोई ऐसा होगा जिसने प्लास्टिक बोतल से पानी नहीं पिया हो। घर से ऑफिस तक सभी जगह हम प्लास्टिक बोतल से ही पानी पीते हैं। लगभग सभी घर के फ्रिज में पानी की बोतल प्लास्टिक की होती है। वहीं, दूसरी तरफ ट्रैवल के दौरान भी जो मिनरल वाटर लेते हैं वो प्लास्टिक बोतल में पैक्ड होता है। अब सुनिए, आप जिस प्लास्टिक की बोतल से बार-बार पानी पीते हैं वो आपके लिए स्लो पॉइजन का काम भी कर सकती है। दरअसल, सभी प्लास्टिक बोतल के नीचे एक कोड होता है। इस कोड से बोतल की क्वालिटी और उसे यूज करने के बारे में जानकारी मिलती है।

# प्लास्टिक बोतल को बनाने में टॉक्सिक (जहरीले) केमिकल्स का यूज किया जाता है। ये केमिकल्स सभी बोतल में एक समान यूज नहीं किया जाता है। यानी हर प्लास्टिक बोतल से खतरा नहीं होता। आपको इन बोतल से किसी तरह का खतरा नहीं हो, इसके लिए इनके पीछे एक कोड दिया जाता है। इस कोड को देखकर आप बोतल के यूज का पता लगा सकते हैं।

# पीछे लिखा होता है PETE या PET

प्लास्टिक की लगभग सभी बोतल के नीचे कोड के साथ PETE या PET लिखा होता है। इसका मतलब है कि बोतल में पॉलिथिलीन टेपेफथालेट कैमिकल का यूज किया गया है। यानी यदि इस बोतल का यूज फिर से किया गया तब ये कैमिकल बॉडी में पहुंचकर कैंसर जैसी घातक बीमारी दे सकता है।

आगे की स्लाइड्स पर जानिए बोतल के नीचे लिखे कोड का मतलब...