पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जमशेदपुर: मंदिर में तोड़फोड़ व प्रतिमाओं के चेहरे पर गंदगी पोतने पर हिंदू संगठनों ने कराया बाजार बंद

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

चक्रधरपुर.  वर्ष 1919 में स्थापित बंगाली एसोसिएशन के दुर्गा मंदिर में मंगलवार की रात को अज्ञात लोगों ने मां दुर्गा सहित कई प्रतिमाओं के चेहरे पर गंदा पोतकर लगभग 1.5 लाख रुपए की संपति चोरी कर ली। घटना के बाद बुधवार की सुबह लोगों ने चक्रधरपुर बाजार बंद करवा दिया। पिछले तीन-चार महीनों में अबतक दर्जनभर मंदिरों में चोरी होने और पुलिस कार्रवाई नहीं होने पर हजारों की तादाद में लोगों ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर विरोध जुलूस निकाला। साथ ही दोषियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर मंदिर के सामने ही धरना-प्रदर्शन किया।

 

इस दौरान पोड़ाहाट डीएसपी सकलदेव राम और एसडीओ प्रदीप प्रसाद का लोगों ने घेराव भी किया जिसके बाद पुलिस ने अपराधियों की गिरफ्तारी का आश्वासन दिया। उधर, हिंदूवादी संगठनों ने घटना की न्यायिक जांच की मांग की है। इस मामले में प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। आशंका जतायी जा रही है कि यह सांप्रदायिक माहौल बिगाड़ने के लिए साजिश भी हो सकती है।  

दर्जन भर मंदिर में हो चुकी चोरी  
चक्रधरपुर में मार्च से लेकर अबतक में दर्जनभर मंदिरों में चोरी की घटनाएं हो चुकी है। चक्रधरपुर के डीएसपी सकलदेव राम का कहना है कि इस मामले पर पुलिस त्वरित कार्रवाई कर रही है। जल्द ही मामले का उदभेदन किया जायेगा। केस दर्ज हो गया है।  उधर, पोड़ाहाट के एसडीओ प्रदीप प्रसाद का कहना है कि यह जघन्य व निंदनीय घटना है। यह एक तरह से साजिश थी। इस पर कार्रवाई हो रही है। लोगों ने धैर्य का परिचय दिया है।  

 

सुबह सफाईकर्मी ने देखा गेट टूटा, मुकुट आदि गायब  
सुबह छह बजे मंदिर की सफाई करने कौशल्या देवी पहुंची थी। उन्होंने देखा कि मंदिर के पास गेट के पास चावल गिरा है। उसके बाद उसने छोटा दरवाजा खुला पाया, अंदर भी दरवाजा टूटा था। वह घबरा गयी। उसने बगल के रेलवे क्वार्टर के लोगों को जानकारी दी। इसके बाद बंगाली एसोसिएशन के लोग पहुंचे। अंदर में जांच में पाया गया कि मां दुर्गा सहित सभी प्रतिमाओं पर गंदा पोत दिया गया है और सारे गहने व चांदी, कांसा के बर्तन गायब हैं। मुकुट, बर्तन व अन्य सामानों का मूल्य 1.5 लाख रुपए लगभग आंका जा रहा है।  

डॉग स्क्वॉयड की स्निफर गोल-गोल घूमी 
घटना की खबर पाकर डीएसपी सकलदेव राम, एसडीओ प्रदीप प्रसाद जांच को पहुंचे। मामले की तहकीकात को चाईबासा से स्निफर डॉग मंगाया गया। उसे जमीन पर गिरे  चावल सुंघाने के बाद चलाया गया। कुत्ता इतवारी बाजार के पीछे  तितलीपाड़ा तक पहुंचा । वहां एक पूर्व अपराधी के घर के पास कुत्ता गोल गोल घुमा और लौट गया। 

 

मंदिर के संरक्षक भाजपा प्रदेश अध्यक्ष  
बंगाली एसोसिएशन के संरक्षक भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सह सांसद लक्ष्मण गिलुवा हैं। हाल ही में उन्हें संरक्षक बनाया गया है। वे मंदिर अक्सर जाते रहे हैं। वर्ष 2019 में मंदिर के 100 वर्ष पूरे होने को है।

 

मंदिर का शुद्धिकरण होगा आज 
मंदिर का शुद्धिकरण कार्यक्रम 9 अगस्त की सुबह सात बजे से होगी। ये जानकारी बंगाली ऐसोशियेशन के सचिव प्रदीप मुखर्जी ने दी है।  वहीं 18 व 19 अगस्त को काली घाट कोलकाता से पुजारी लाकर कलश स्थापित होगा।

 

 

 



खबरें और भी हैं...