गीतों के जरिए समाज में महिला हिंसा के प्रति दिखाया विरोध

News - महिला और जेंडर मुद्दों पर कार्य करने वाला संगठनों और वूमेन एंड जेंडर रिसोर्स सेंटर की ओर से शुक्रवार को वन...

Feb 15, 2020, 07:50 AM IST

महिला और जेंडर मुद्दों पर कार्य करने वाला संगठनों और वूमेन एंड जेंडर रिसोर्स सेंटर की ओर से शुक्रवार को वन बिलियन राइजिंग अभियान का आयोजन किया गया। यह अभियान महिलाओं के खिलाफ होने वाली मानसिक और शारीरिक हिंसा के विरोध में एकजुटता को दर्शाने के लिए यह विरोध सांस्कृतिक कार्यक्रमों के जरिए प्रस्तुत किया गया। कार्यक्रम में लोगों को संबोधित करते हुए संवाद संस्थान से श्रावणी ने कहा कि महिलाओं को बहुत समय से विभिन्न क्षेत्रों में अपने अधिकारों के लिए संघर्ष करना पड़ा है। आज भी हम कई क्षेत्रों में पीछे हैं, पर हम हर क्षेत्र में अपने अधिकार के लिए हमेशा लड़ते रहे हैं और लड़ते रहेंगे।

इस विरोध प्रदर्शन कार्यक्रम में विभिन्न स्कूलों और कॉलेजों के स्टूडेंट्स ने भी महिलाओं पर हो रही हिंसा पर अपनी बातें रखीं। विभिन्न प्रतिभागियों ने कविताओं से अपना विरोध जताया। जैसमिन ने खिलती हुई कलियां हैं बेटियां... और लोक गीतों जिंदा है तू जिंदा है....मिलकर हम नाचेंगे-गाएंगे... का पाठ किया। वाईएमसीए के स्टूडेंट्स द्वारा महिलाओं के प्रति हो रही हिंसा और उनकी उनकी स्थिति को नाटक के जरिए प्रस्तुत किया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से छोटानागपुर सास्कृतिक मंच, एकजुटता मंच, वाईडब्लूसीए, राइट टू फूड, झारखंड जनाधिकार मंच सहित अन्य संगठनों ने हिस्सा लिया।

वन बिलियन राइजिंग अभियान

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना