राज्य में रोक के बावजूद भी बालू का अवैध कारोबार बढ़ा

News - बुढ़मू प्रखंड का सबसे बड़ा बालू घाट जो छापर देवनद नदी पर है। अवैध रूप से बालू माफियाओं द्वारा रात-दिन दर्जनों हाइवा व...

Oct 13, 2019, 07:50 AM IST
बुढ़मू प्रखंड का सबसे बड़ा बालू घाट जो छापर देवनद नदी पर है। अवैध रूप से बालू माफियाओं द्वारा रात-दिन दर्जनों हाइवा व ट्रैक्टरों से बालू का उठाव किया जा रहा है। इसकी जानकारी स्थानीय पुलिस-प्रशासन को मिलने पर पिछले दो अप्रैल को दस हाइवा और एक जेसीबी को जब्त किया गया था। जिसे माफियाओं द्वारा छुड़ा लिया गया। एक माह पूर्व बुढ़मू और ठाकुरगांव पुलिस संयुक्त रूप से अभियान चला कर सात बालू लदे हाइवा को जब्त किया था। पकड़े जाने के लगभग 25 दिनों के बाद पुनः माफियाओं द्वारा हाइवा को छुड़ा लिया गया।

अब वर्तमान में हाइवा की जगह दर्जनों ट्रैक्टर से बालू का अवैध उठाव किया जा रहा है। जानकरी के मुताबिक नवंबर 2018 में बालू घाट का नीलामी जो ब्रह्मदेव प्रसाद के नाम से था, जिसका समय सीमा समाप्त होने के बावजूद भी धड़ले से बालू का उठाव जारी है। जबकि वर्तमान में राज्य सरकार द्वारा किसी भी नदी से बालू के उठाव पर रोक लगी हुई है। इस संबंध में वन क्षेत्र पदाधिकारी संजय कुमार व जिला खनन पदाधिकारी रवि कुमार सिंह ने बताया कि यह मामला संज्ञान में आया है। इस बार अविलंब जांचोपरांत बालू माफियाओं पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

खेल...बिना नंबर प्लेट वाले वाहनों से होती है बालू की ढुलाई

रांची | छापर बालू घाट से बालू का अवैध उत्खनन कर ट्रैक्टर से ले जाने की सूचना पर शनिवार को बुढ़मू थाना के सहायक अवर निरीक्षक शिवकुमार सिंह व पुलिस बल के साथ तीन ट्रैक्टर को पकड़ा। तीन में से एक ट्रैक्टर में नंबर प्लेट भी नहीं लगा था। मौके पर ही ट्रैक्टर को जब्त कर दो स्वतंत्र गवाहों की मौजूदगी में अन्य चालक से चलवाकर थाना परिसर में लगाया गया। बुढ़मू के अंचल अधिकारी सुनील चंद्र ने एफआईआर के लिए बुढ़मू थाना में लिखित आवेदन दिया। जिसके बाद एफआईआर दर्ज कर लिया गया।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना