पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

धाैनी अभी भी टीम इंडिया को बहुत कुछ दे सकते हैं...

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

जेके इंटरनेशनल स्कूल के एक कार्यक्रम में शरीक होने आए टीम इंडिया के पूर्व विकेटकीपर आैर बीसीसीआई के जीएम प्रशासन सैयद सबा करीम ने कहा कि महेंद्र सिंह धाैनी अभी भी टीम इंडिया को बहुत कुछ दे सकते हैं। पत्रकारों के सवाल पर करीम ने कहा कि धाैनी महान क्रिकेटर हैं। लेकिन अभी के युवा विकेटकीपर भी अपना अच्छा प्रदर्शन दे रहे हैं। टी-20 वर्ल्ड कप में धाैनी के सेलेक्शन के सवाल पर कहा कि ये सेलेक्टर का काम है। टीम में किसे रखना है आैर किसे नहीं ये वे ही बेहतर बता पाएंगे। उन्होंने कहा कि जब भी कोई महान क्रिकेटर का समय आता है कि अपनी जगह को छोड़ें, तब नए बच्चों को आने में बहुत समय लगता है। उनको अपना स्थान प्राप्त करने में समय लग जाता है। जब धाैनी भी टीम इंडिया में आए थे तो उन्हें भी सेटल होने में काफी समय लगा था। मुझे लगता है कि अभी के युवा विकेटकीपर जो भरकर आ रहे हैं उनमें भी बहुत क्षमता हैं।

ज्यादा मैच खेलने से ही अनुभव आएगा


अनुभव अचानक से नहीं आ जाता है। अनुभव के लिए ज्यादा मैच खेलने पड़ेंगे। हर टीम में ट्रांजक्शन फेज आते हैं जहां पर बड़े-बड़े खिलाड़ी निकल जाते हैं। सचिन तेंदुलकर भी निकल गए, उनका स्थान भी कोई न कोई ले लिया। यही तो मजा है गेम का, यही तो जीवन के बारे में बहुत कुछ सिखाता है। माैके पर जेके इंटरनेशनल के चेयरमैन जीतेंद्र सिंह, प्रिंसिपल मनिन्द्र सिंह, एमएम सिद्दीकी, आफताब आदि शामिल थे।


सबा के जवाब

ग्रासरुट क्रिकेट को मजबूत करने की जरुरत : भारतीय टीम में ईस्ट जोन के खिलाड़ियों के प्रतिनिधित्व में आ रही कमी के सवाल पर सबा ने कहा कि झारखंड समेत सभी पूर्वोत्तर राज्यों को ग्रासरूट के स्तर पर और बेहतर संसाधन जुटाने की जरुरत है। ईस्ट जोन में 8-9 महीने क्रिकेट होता है। जबकि अन्य राज्यों में 12 महीने क्रिकेट होता है। इंडोर प्रैक्टिस के संसाधन जुटाने होंगे। साथ ही खिलाड़ियों को ऑफ सीजन के 3-4 महीनों में प्रैक्टिस के लिए बाहर भेजना होगा। यहां से क्रिकेटर टीम इंडिया में तभी जगह बना पाएंगे जब वो अपना बेस्ट परफॉर्मेंस दे सकेंगे।

माही भी टीम इंडिया में आए थे तो उन्हें भी सेटल होने में काफी समय लगा थाअभी के युवा विकेटकीपर जो उभरकर सामने आ रहे हैं उनमें भी बहुत क्षमता हैसचिन के संन्यास के बाद उनका भी स्थान किसा ना किसे ने भर दिया

खबरें और भी हैं...