• Dharm
  • Gyan
  • dharm_this is the formula for get all pleasure and property of life

बस, यही 1 है सारी सुख-संपत्तियां बंटोरने का अहम सूत्र.. / बस, यही 1 है सारी सुख-संपत्तियां बंटोरने का अहम सूत्र..

अगर आप जीवन में सारे सुख-संपत्तियों को पाने की चाहत रखते हैं तो संत कबीर के बताए इस सूत्र को फौरन अपना ले..

धर्म डेस्क. उज्जैन

Feb 09, 2012, 06:10 PM IST
dharm_this is the formula for get all pleasure and property of life

शरीर, विचार और व्यवहार से जुड़ा किसी भी तरह का दोष जीवन में बाधा या अड़चनें पैदा करता है, जो रोग, कुंठा, निराशा, असफलता के रूप में सामने आती हैं। हर इंसान को इस सच का अहसास होने से ही वह जीवन को परेशानियों से बचाने की हर संभव चेष्टा करता है। इस गहमा-गहमी के बाद भी भी सुख का एक अहम सूत्र जानने-समझने से चूक जाता है। क्या है यह सूत्र? जानिए
ज्ञान योगी संत कबीर दास ने अपने एक दोहे से तमाम दोषों, परेशानियों और पीड़ाओं से बचाने वाले इस अहम सूत्र की ओर इशारा किया है, जो तन, मन से मजबूत बनाने के साथ तमाम सुख-संपत्तियों को देने वाला है। लिखा गया है कि -
शीलवन्त सबसे बड़ा, सब रतनन की खान।
तीन लोक की सम्पदा, रही शील में आन॥
इस दोहे के जरिए संत कबीर ने शीलवान यानी श्रेष्ठ चरित्र के इंसान को रत्नों की खान की उपमा से सबसे बड़ा और बेहतर बोलकर चरित्र का भी महत्व उजागर किया है। यही नहीं साफ चरित्र को ही जीवन में सारे सुख-संपत्तियों को पाने का मूल बताया है। इशारा यही है कि बेहतर चरित्र व सुख के लिये इंसान को न केवल खान-पान, रहन-सहन में संयम, अनुशासन से पवित्रता व सादगी को अपनाना चाहिए। बल्कि मन, विचार व व्यवहार शुद्धि के लिए ज्ञान, अध्ययन, योग, तप, भक्ति, धर्म, आध्यात्म व बेहतर संगति का रास्ता चुनना चाहिए।
रिलेटेड आर्टिकल में क्लिक करें कबीर के रोचक दोहों से जुड़ा आर्टिकल। साथ ही धर्म और उपासना से जुड़ी कोई जिज्ञासा हो या कोई जानकारी चाहते हैं तो आर्टिकल पर टिप्पणी के साथ नीचे कमेंट बाक्स के जरिए हमें भेजें।





X
dharm_this is the formula for get all pleasure and property of life
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना