... दूरी ही दवा है

Bettiah Bagha News - कोराना वायरस की संक्रमण से जंग लड़ने को लेकर जिला प्रशासन की ओर से जिला नियंत्रण कक्ष सिविल सर्जन कार्यालय में...

Mar 27, 2020, 06:31 AM IST

कोराना वायरस की संक्रमण से जंग लड़ने को लेकर जिला प्रशासन की ओर से जिला नियंत्रण कक्ष सिविल सर्जन कार्यालय में बनाया गया है। जिला नियंत्रण कक्ष काम भी करना शुरू कर दिया है। लोगों को जानकारी देने में किसी तरह की परेशानी नहीं हो, इसको लेकर जिला नियंत्रण कक्ष के लिए दस दूरभाष नंबर जारी किए गए हैं। डीएम कुंदन कुमार ने बताया कि इन नंबरों पर कोरोना वायरस से संबंधित किसी भी तरह की जानकारी दी जा सकती है। इसके लिए दस अलग- अलग कर्मियों की प्रतिनियुक्ति की गयी है। एक चिकित्सक एवं दो सहायक चिकित्सक भी लगाये गए हैं। नियंत्रण कक्ष चौबीस घंटे काम करेगा। कोरोना को लेकर जानकारी देने के लिए कोई भी व्यक्ति फोन करेंगा, नियंत्रण कक्ष में तैनात लोगों को इसके गंभीरता से लेना होगा। इसमें किसी तरह को लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। वहीं, बेवजह कॉल करने पर प्राथमिकी दर्ज की जाएगी।

किसी में लक्षण दिखाई दे तो नियंत्रण कक्ष को तुरंत दें सूचना : डीएम कुंदन


डीएम कुंदन कुमार ने कहा कि कोरोना वायरस को लेकर बनाए गए नियत्रंण कक्ष में बेवजह फोन करनेवाले व्यक्ति दंडित किए जा सकते हैं। यदि बेवजह वे परेशानी का सबब बनेंगे, तो उनके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की जायेगी। उन्होंने जिलेवासियों से अपील करते हुए कहा कि यदि कोई भी व्यक्ति जिसमें कोरोना से संक्रमित होने के लक्षण दिखायी दे , तो वे सीधे नियंत्रण कक्ष को सूचना दे सकते है।

आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करने पर अस्पताल प्रशासन की कार्यशैली पर उठ रहा है सवाल


जीएमसीएच में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के लिए आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है। उसी वार्ड में दो दिन पहले आए रक्सौल निवासी मरीज राजकुमार यादव को भर्ती किया गया। जांच रिपोर्ट आने के बाद यह भी पुष्टि हो गई कि वह कोरोना पॉजेटिव नहीं था। ऐसे में बुखार, सर्दी व खांसी के मरीज को आइसोलेशन वार्ड में अस्पताल प्रशासन की ओर से भर्ती करना उनकी कार्यशैली पर ही सवाल खड़ा कर दिया है।

नियंत्रण कक्ष के ये है नंबर


06254-246144, 06254-246145, 06254-246146, 06254-246147, 06254-246148, 06254-246149, 06254-246150, 06254-246151, 06254-246152, 06254-246153, 06254-246154. वाट्सएप नंबर 7462043497

पोस्टमार्टम के लिए रूम में पड़ा है शव


इलाज के दौरान राजकुमार यादव की मौत के बाद उनका शव पोस्टमार्टम रूप में पड़ा है। कारण की परिजन फरार हो गए हैं। ऐसे में अस्पताल प्रशासन ने वरीय पदाधिकारियों को सूचना देकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। अस्पताल उपाधीक्षक डॉ. श्रीकांत दूबे ने बताया कि वरीय पदाधिकारियों का निर्देश मिलने के बाद मृतक का शव पोस्टमार्टम करा दिया जाएगा। परिजन नहीं आते हैं, तो अग्रेत्तर कार्रवाई की जायेगी।


आइसोलेशन वार्ड में युवक की मौत, अस्पताल प्रशासन ने कहा- अस्थमा व मधुमेह से था ग्रसित

हेल्थ रिपोर्टर|बेतिया

जीएमसीएच के आईसोलेशन वार्ड में दो दिन पहले 24 मार्च को पूर्वी चंपारण जिले के रक्सौल थाना के बड़ा परेउवा निवासी राजकुमार यादव की मौत इलाज के दौरान गुरुवार दोपहर करीब 1 बजे मौत हाे गई। मरीज की मौत के बाद परिजन शव छोड़कर फरार हो गए। अस्पताल प्रशासन शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। अस्पताल उपाधीक्षक डॉ. श्रीकांत दूबे ने बताया कि मृतक राजकुमार अस्थमा व मधुमे से ग्रसित था। सर्दी, खांसी व तेज बुखार होने के कारण एहतियात के तौर पर आईसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया था व उसका इलाज चल रहा था। हालांकि उसका कोरोना की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। उन्होंने बताया कि अस्पताल में उनके परिजनों के नहीं होने के कारण मृतक का शव सुरक्षित रखा गया है। परिजनों की तलाश कराई जा रही है।

जिला नियंत्रण कक्ष के वाट्सएप नंबर पर दें कोरोना संक्रमण संबंधित कोई भी जानकारी

सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करते हुए हथुहअवा पंचायत में हुई बैठक में मुखिया समेत तमाम लोग।

जब मुखिया ही गलत उदाहरण पेश करेंगे, तो पंचायत में लोग कैसे जागरूक होंगे

जनप्रतिनिधि न बढ़ाएं परेशानी | लोगों को जागरूक करना बहुत जरूरी है, लेकिन इसका ये मतलब नहीं की हम खुद लापरवाही बरतें। गुरुवार को
हथुहअवा में मुखिया ने बैठक की, पर खुद सोशल डिस्टेंसिंग करना भूल गईं। वहीं, बैरिया पंचायत में मुखिया की पहल सभी के लिए अनुकरणीय है।


सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन लॉकडाउन का उद्देश्य खराब कर देगा, 19 दिन और दें ध्यान

भास्कर टीम | बेतिया/ बगहा

कोरोना वायरस के खिलाफ अभियान को सफल बनाने के लिए भितहा प्रखंड की लगभग सभी पंचायतों में मुखिया ने पंचायत कार्यालयों में आंगनबाड़ी सेविका, सहायिका, आशा, सरपंच व वार्ड सदस्यों के साथ बैठक की। लेकिन हथुअहवा पंचायत में हुई इस बैठक का यह दृश्य देखिए, जिसमें बैठक के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग से बेपरवाही साफ नजर आती है। हालांकि मुखिया नूरजहां खातून ने बैठक के दौरान पर्याय सतर्कता पर जोर देते हुए कोरोना के बचाव के लिए किसी भी स्तर पर कोताही नहीं बरतने की हिदायत दी। बताते चलें कि राज्य के मुख्य सचिव के आदेश के आलोक में पंचायती राज पदाधिकारी द्वारा पत्र निर्गत किया गया है कि सभी पंचायतों के मुखिया अपने सभी जनप्रतिनिधियों एवं कर्मियों के साथ बैठक कर कोरोना वायरस से बचाव संबंधित उपायों पर चर्चा करें। यदि कोई व्यक्ति दूसरे राज्य या विदेश से आता है तो फौरन इसकी सूचना प्रशासन को दें।

बैठकों के दौरान सभी पंचायतों में मुखियाओं के स्तर से एक पंजी का संधारण किया गया जिसमें संबंधित कर्मियों के मोबाइल नंबर सहित उनकी उपस्थिति दर्ज की गई। सभी लोगों को निर्देश दिया गया कि सरकार के स्तर से जारी गाइड लाइन का पालन सभी लोग करें। खैरवा पंचायत के मुखिया मोनिल राय ने ध्वनि विस्तारक यंत्र से पंचायत के सभी वार्डों सभी गांव में प्रचार कराया कि कोरोना वायरस से किस तरह बचाव किया जा सकता है। साथ ही साथ सरकार द्वारा जारी गाइड लाइन के नियमों का पालन पंचायत के सभी नागरिक जरूर करें। प्रखंड के हथुहवा पंचायत के मुखिया नूरजहां खातून, सेमवारी पंचायत के मुखिया रामाधार यादव, परसौना पंचायत के मुखिया भोला साह, मच्छहा पंचायत के मुखिया सुभान अंसारी, डीडी पकड़ी पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि जयप्रकाश राम सहित सभी पंचायतों के मुखिया की अध्यक्षता में यह विशेष बैठक आयोजित की गई। हालांकि कई पंचायतों में आयोजित बैठकों में सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन भी किया गया। इसका सबसे बेहतरीन उदाहरण पेश बैरिया पंचायत में पेश की गई। मुखिया ने मार्किंग कराकर कुर्सियां लगवाईं। ताकि सोशल डिस्टेंसिंग फॉलो हो सके।

कोराेना टेस्ट में था निगेटिव : दो दिन पहले भर्ती हुआ था रक्सौल का मरीज

बैरिया पंचायत में मुखिया ने मार्किंग करवाकर कुर्सियां लगवाईं। ग्रामीणों संग बैठक कर जागरूक किया।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना