--Advertisement--

चीन में शुरू होने वाला है विवादित डॉग्स मीट फेस्टिवल, मारे जाएंगे हजारों बेजुबान

डॉग मीट फेस्टिवल की शुरुआत से पहले ही प्रतिदिन 50 डॉग्स को मारना शुरू कर दिया जाता है

Danik Bhaskar | Jun 20, 2018, 01:57 PM IST

  • 2010 में शुरू हुआ था डॉग मीट फेस्टिवल
  • हर साल हजारों डॉग्स को बेरहमी से मारा जाता है यहां

यूलिन. चीन के यूलिन शहर में 21 जून से विवादित डॉग मीट फेस्टिवल शुरू होने जा रहा है। इस फेस्टिवल में हजारों कुत्तों को मार दिया जाता है। इसकी शुरुआत भी हो गई है। तैयारी के तौर पर डॉग्स को मारने के लिए बूचड़खाने शुरू हो गए हैं, जहां बेरहमी से इन्हें मारा जा रहा है। हाल ही में यहां की खौफनाक तस्वीरें सामने आई हैं। कहीं डॉग्स को जिंदा भूना जा रहा है, तो कहीं खौलते पानी में डाल दिया जाता है और फिर लोग इन्हें शौक से खाते हैं। हर दिन 50 डॉग्स को मारा जाता है...

- यूलिन डॉग मीट फेस्टिवल की शुरुआत से पहले ही प्रतिदिन 50 डॉग्स को मारना शुरू कर दिया जाता है, जिससे 10 दिनों तक डॉग मीट की सप्लाई चलती रहे। ह्यूमन सोसायटी इंटरनेशनल ने यहां के बूचड़खानों का वीडियो भी जारी किया है, जो बेहद खौफनाक है।

लगातार हो रहा विरोध

इस फेस्टिवल को बंद कराने को लेकर एनिमल एक्टिविस्ट लगातार विरोध प्रदर्शन किया जाता रहा है, लेकिन अब तक इसे बंद नहीं कराया जा सका। 2010 में शुरू हुए इस फेस्टिवल के दौरान 10 दिन में 15 हजार डॉग्स को मारकर खाया गया था। बाद में अंतरराष्ट्रीय दबाव के चलते ये संख्या घटकर 3 हजार तक आ गई। कुछ समय पहले यह खबर आई थी कि इस फेस्टिवल को बंद कराने में एनिमल एक्टिविस्ट कामयाब हो गए हैं। इस फेस्टिवल के शुरू होने से एक हफ्ते पहले डॉग मीट की बिक्री बंद हो जाएगी। लेकिन चीन सरकार इसमें अब भी फेल है।

बंद करने के लिए 1 करोड़ लोग कर चुके हैं पिटीशन साइन

कुछ समय पहले इसे लेकर एक सर्वे भी कराया गया, जिसमें यह सामने आया कि चीन के 64% लोग इस फेस्टिवल के खिलाफ हैं। 1 करोड़ 10 लाख से ज्यादा लोगों ने इसे बंद कराने को लेकर पिटीशन भी साइन की। सर्वे में 51.7% लोगों ने डॉग मीट ट्रेड को हमेशा के लिए बंद करने की मांग की। वहीं, 69.5% ने कहा कि उन्होंने कभी भी डॉग मीट नहीं खाया। सर्वे के मुताबिक, चीन के ज्यादातर लोग मानते हैं कि इस फेस्टिवल से चीन की साख को भी धक्का पहुंच रहा है।